scorecardresearch

सपा छोड़ आखिर क्यों BJP में आईं अपर्णा यादव? खुद बताई वजह

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से ठीक पहले अपर्णा यादव भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुईं हैं। इसको लेकर उनके भाजपा में शामिल होने के पीछे कई वजहें बताई जा रही हैं।

Aprna yadav, bjp
भाजपा में शामिल हुईं अपर्णा यादव(फोटो सोर्स: ANI)।

उत्तर प्रदेश विधान सभा के चुनाव से पहले प्रदेश के कई विधायक, मंत्री और बड़े नेताओं एक बार फिर से पाले बदलने शुरू कर दिए हैं। अभी हाल ही में सपा छोड़कर मुलायम सिंह यादव की पुत्रवधु अपर्णा यादव ने भाजपा का दामन थामा है और उन्होंने पत्रकार से बात करते हुए भाजपा ज्वाइन करने पीछे बताई है। इसके अलावा उन्होंने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के उस बयान का भी जवाब दिया है जिसमें उन्होंने कहा था, ‘नेता जी ने उन्हें समझाने की बहुत कोशिश की थी।’ आइये जानते हैं रिपोर्टर से क्या कुछ कहा-

टीवी 9 भारतवर्ष के रिपोर्टर ने अपर्णा यादव से सवाल पूछते हुए कहा कि आपसे पहला सवाल यह है कि आपने बीजेपी जॉइन कर लिया है, वहां से यहां आने में आपको क्या अलग लग रहा है, आपको क्या अंतर नजर रहा है? इसपर जवाब देते हुए अपर्णा यादव ने कहा कि देखिए यहां पर जॉइन करने को लेकर जो सबसे बड़ा फैक्टर था वो था राष्ट्रवाद, अपने जीवन में मैंने अपने देश को सबसे ऊंचा स्थान दिया है। मुझे लगता है देश और देश सेवा से ज्यादा महत्वपूर्ण मेरी जिंदगी में कुछ और रहा नहीं है।

अपर्णा ने कहा भाजपा में भेदभाव नहीं: इसपर पलटवार करते हुए रिपोर्टर ने पूछा कि क्या वहां राष्ट्रवाद नहीं था जो यहां राष्ट्रवाद है? इसके जवाब में अपर्णा ने कहा, ‘आदरणीय प्रधानमंत्री जी की जो नीतियां हैं और उनका जो एक मूल मंत्र है और भाजपा का नारा भी है ‘सबका साथ- सबका विश्वास और सबका विकास’ ये बहुत बड़ी बात है। न कोई जाति है, न कोई धर्म है, न कोई लिंग है…किस तरह का कोई भेदभाव नहीं है।’

भाजपा ज्वाइन करने के पीछे थी यह वजह: इसपर रिपोर्टर ने तत्परता से सवाल पूछते हुए कहा, ‘यहां पर तो नहीं है? लेकिन क्या आप जहां पर थी वहां पर जातिवाद था?’ इसके बाद अपर्णा थोड़ी हिचकिचाते हुए बोली, ‘देखिए जातिवाद या इस तरीके की बात नहीं…मैं अपनी पार्टी की बात करते हुए…अपनी पार्टी की विशेषता बताना चाहती हूं। मुझे लगता है मैं पहले से ही प्रधानमंत्री जी से बहुत ज्यादा प्रभावित रही हूं और मैं इसीलिए इस पार्टी में आई हूं। मुझे इतना पता है और मेरा ये विश्वास है जिन लोगों ने इस देश के संस्कारो को पुनर्जीवित किया है, और देश के संस्कारों को जिन्होंने सिंचित किया है पोषित किया है। इसमें कोई दो राय नहीं है कि वो भारतीय जनता पार्टी के लोग हैं।’

रिपोर्ट ने मुलायम सिंह यादव को लेकर सवाल करते हुए कहा, ‘अपर्णा जब आप नेता जी के पास गयी, उनका आशीर्वाद लिया…नेता जी ने आपसे क्या कहा? यह बात अभी तक सामने नहीं आ पाई है, अगर उनके शब्द बताएंगी तो थोड़ा समझ में आएगा।’

अखिलेश के बयान पर दिया जवाब: अपर्णा हंसते हुए इसका जवाब देती हैं, कहती हैं कि सबसे पहले तो भाजपा जॉइन करने आपने (मीडिया वालों ने) ही मुझे आशीर्वाद दे दिया था….हालांकि नेता जी ने कुछ कहा नहीं लेकिन आदरणीय नेता जी हमेशा से मुझे बहुत प्यार करते हैं, बड़ा स्नेह मिलता है, मैं शौभाग्यशाली हूं कि उनका स्नेह आशीर्वाद प्राप्त होता है और वो हमेशा खुश होकर ही आशीर्वाद देते हैं। अखिलेश के बयान ‘नेता जी ने उन्हें बहुत समझाने की कोशिश की थी कि न जाएं’ के सवाल पर अपर्णा ने रिपोर्टर से कहा कि बिल्कुल उन्होंने मुझे बहुत ज्यादा राजनीतिक समझ दी…

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.