योगी जी के लिए एक भी सेफ सीट नहीं मिली? पूर्व IAS का सवाल, सपा नेता बोले-अब गोरखपुर से सीधे अखिलेश के शपथ में आएं

बीजेपी ने पहले चरण की 58 सीटों में से 57 सीटों और दूसरे चरण की 55 सीटों में से 48 सीटों पर ऐलान किया। सीएम योगी आदित्यनाथ गोरखपुर शहर सीट से चुनाव लड़ेंगे।

Yogi Adityanath
योगी आदित्यनाथ का असली नाम अजय सिंह बिष्ट है। उनका जन्म 5 जून 1972 को पंचूर गांव, पौड़ी गढ़वाल (उत्तराखंड) में हुआ था। (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर मचे घमासान को रोकने के लिए फिलहाल भाजपा ने प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर दिया है। इसक साथ ही पार्टी ने योगी आदित्यनाथ के सीट को लेकर लगाए जा रहे पूर्वानुमान को धता बताते हुए वह किस सीट से चुनाव लड़ेंगे इसका भी ऐलान कर दिया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी के चुनाव लड़ने को लेकर पहले ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि वह अयोध्या या मथुरा के किसी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। लेकिन शनिवार को पार्टी के यूपी चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान ने सारे कयासों पर विराम लगाते हुए सीएम योगी को गोरखपुर शहर सीट से आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है।

योगी आदित्यनाथ के सीट को लेकर सोशल मीडिया पर तरह- तरह की बयानबाजी हो रही है, वहीं अखिलेश ने शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में चुटकी लेते हुए कहा कि सवाल चुनाव लड़ने का है। कभी कहते थे कि मथुरा से लड़ेंगे, कभी कहते थे अयोध्या से लड़ेंगे, कभी कहते थे प्रयागराज से लड़ेंगे, कभी कहते थे देवबंद से लड़ेंगे। मुझे खुशी इस बात की कि भारतीय जनता पार्टी ने पहले उन्हें अपने घर भेज दिया। हालांकि उन्होंने 11 तारीख की गोरखपुर की टिकट पहले ही बुक कराई थी। अब मुझे लगता है कि गोरखपुर में ही उन्हें रहना पड़ेगा अब गोरखपुर से वापस आने की जरूरत नहीं है, उनको बहुत-बहुत बधाई!

वहीं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रिय प्रवक्ता आईपी सिंह ने कहा, ‘अयोध्या के ब्राह्मणों की नाराजगी को देखते हुए योगी जी अंत में भाग खड़े हुए। इस बार गोरखपुर से चुनाव लड़ रहे हैं उनकी जमानत जब्त होना तय। अयोध्या में पाँच साल में 50 बार हेलीकॉप्टर से दौड़ लगाई फिर भी अपने किये विकास पर उन्हें खुद से विश्वास नहीं रहा।’

पत्रकार रोहिणी सिंह ने मीडिया पर निशाना साधते हुए लिखा की जो मीडिया कल तक योगी आदित्यनाथ के अयोध्या से लड़ाए जाने को ‘मास्टरस्ट्रोक’ बता रही थी, वही मीडिया अब उन्हें गोरखपुर से लड़ाए जाने को ‘मास्टरस्ट्रोक’ बताएगी। रिश्ता वही, सीट नयी।

राष्ट्रिय यूथ कांग्रेस के राष्ट्रिय अध्यक्ष श्रीनिवास ने तंज कसते हुए कहा, ‘अब योगी जी चुनाव के बाद भी गोरखपुर ही रहेंगे।’

पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा कि एक भी सेफ सीट नहीं मिली योगी जी के लिए, ना अयोध्या में और ना ही मथुरा में। अभी से गोरखपुर भेज दिए गए।

4 पीएम के संपादक संजय शर्मा लिखते हैं कि अयोध्या में ब्राह्मणों की नाराजगी और संतों के असंतोष के बाद योगी आदित्यनाथ ने यहॉ से चुनाव लड़ने का इरादा छोड़ा! गोरखपुर से लड़ेंगे सीएम योगी!

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।