ताज़ा खबर
 

प्रदूषण की वजह से आंखों का बुरा हाल? अपनाकर देखें ये उपाय

मोबाइल फोन, लैपटॉप जैसे स्क्रीन डिवाइस को लगातार लंबे समय तक प्रयोग न करें। बीच-बीच में आंख को ठंडे पानी से धोते रहे। इससे आपकी आंख में पानी बना रहता है और यह ड्राई नहीं होती।

दिल्ली में प्रदूषण की वजह से छायी धुंध (Photo: (PTI)

वायु प्रदूषण की वजह से अस्थमा, सांस, सांस संबंधी बीमारी और दिल की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। हवा में मौजूद संवेदनशील और हानिकारक तत्व, केमिकल, धुंआ इत्यादि की वजह से आंखों में जलन होने लगती है। जैसे-जैसे प्रदूषण का स्तर बढ़ता है, आंखें सूखना, आंखों में जलन, आंखों में खुजली, धुंधला दिखना जैसी समस्याएं बढ़ जाती है। राजधानी दिल्ली में दिवाली के बाद यहां वायु प्रदूषण का स्तर काफी अधिक बढ़ गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, दिल्ली की हवा जहरीली हो चुकी है। यहां की हवा में सांस लेना लोगों के लिए खतरनाक हो चुका है। यह लोगों की सेहत को काफी नुकसान पहुंचा रहा है। गुरुवार (8 नवंबर) को दिल्ली की हवा में सांस लेना करीब 15 से 20 सिगरेट पीने के बराबर हानिकारक था। ऐसी स्थिति में हम आज कुछ ऐसी बातें बता रहे हैं, जिससे आपको वायु प्रदूषण से राहत मिल सकती है।

* सुबह के समय प्रदूषण का स्तर काफी अधिक होता है। ऐसी स्थिति में घर से बाहर निकलने से बचना चाहिए। साथ ही घर के दरवाजे व खिड़कियों को बंद रखना चाहिए।
* यदि घर से बाहर निकलना जरूरी हो तो आंखों पर चश्मा जरूर लगाकर निकलें ताकि हानिकारक तत्व आपकी आंखों के संपर्क में न आ पाए।
* स्कूल, कॉलेज, ऑफिस या किसी अन्य जगह से बाहर से घर आने के बाद प्रत्येक दिन अपनी आंखों को साफ पानी से धोएं।
* बाहर से घर आने के बाद अपनी हाथों को भी धोएं। साथ ही यह कोशिश करें कि हाथों को आंखों नहीं रगड़ें।
* आंखों के डॉक्टर द्वारा बताए गए आई-ड्रॉप का इस्तेमाल करें।

* यदि आपका आंख मिचलाता हो या सूखता हो तो काॅटैक्ट लेंस या आई-मेकअप का उपयोग न करें।
* आंखों की जलन को दूर करने के लिए ठंडी हवा के संपर्क में आएं।
* मोबाइल फोन, लैपटॉप जैसे स्क्रीन डिवाइस को लगातार लंबे समय तक प्रयोग न करें। बीच-बीच में आंख को ठंडे पानी से धोते रहे। इससे आपकी आंख में पानी बना रहता है और यह ड्राई नहीं होती।
* ओमेगा 3एस और एंटीटॉक्सिडेंट तत्वों वाले सामग्री का उपयोग अपने भोजन में करें, जैसे: मछली, हरी पत्तिदार सब्जियां, गाजर, ऑवला, वालनट, इत्यादी। ये आंखों के लिए फायदेमंद होते हैं।
* अपने घर में एक उच्च गुणवत्ता वाले एयर प्यूरीफायर लगवाएं, जो आपकी आंखों के साथ दूसरे शरीरिक समस्याओं से बचाएगा।
* यदि आपकी आंखें कभी लाल या ड्राई दिखे तो तुरंत चिकत्सक से संपर्क करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App