दो प्रयास में असफल होने के बाद तीसरे प्रयास में क्लियर किया UPSC एग्जाम, जानिए IAS मधुमिता का सक्सेस-मंत्र

UPSC-2019 में 86 रैंक हासिल कर IAS अधिकारी बनने वाली मधुमिता ने कई टिप्स दिए हैं। मधुमिता कहती हैं कि यूपीएससी की तैयारी कर रहे कैंडिडेट्स को नोट्स बनाने पर काम करना चाहिए।

UPSC, UPSC Online
IAS अधिकारी मधुमिता (Photo- Madhumita/Instagram)

UPSC में कामयाबी हासिल करना हर युवा का सपना होता है। लेकिन इस परीक्षा को हर कोई क्लियर नहीं कर पाता। आज हम आपको हरियाणा के पानीपत की रहने वाली मधुमिता की कहानी बताएंगे। मधुमिता ने UPSC 2019 में 86 रैंक हासिल की थी। मधुमिता दो प्रयासों में असफल हो गई थीं। मधुमिता ने साल 2017 में पहली बार यूपीएससी एग्जाम दिया था। पहले ही प्रयास में वह इंटरव्यू राउंड तक पहुंच गई थीं।

इसके बाद उन्होंने दोबारा एग्जाम देने का फैसला किया। दूसरा प्रयास उन्होंने साल 2018 में दिया और प्रीलिम्स तक पास नहीं कर पाई थीं। इसके बाद वह काफी निराश हो गईं। मधुमिता ने खुद को संभाला और एक बार फिर तैयारी में जुट गईं। उन्होंने अपनी कमजोरियों पर सबसे ज्यादा काम किया। अगले साल यानी 2019 में उन्होंने एक बार फिर एग्जाम दिया और इसमें कामयाबी हासिल की थी। इसी के साथ उनका बचपन का सपना भी पूरा हो गया था।

मधुमिता से एक इंटरव्यू के दौरान उनकी तैयारी के बारे में पूछा गया था तो उन्होंने कहा था, ‘यूपीएससी की तैयारी करने के लिए आपको सबसे पहले एक बेहतर माहौल तैयार करना होगा, जहां आप अपने लक्ष्य पर फोकस कर सकें। इसके बाद सिलेबस को अच्छी तरह देखकर तैयारी शुरू कर दें। उनके मुताबिक आप अपनी तैयारी पर पूरी तरह फोकस रखें और सोशल मीडिया से दूरी बना लें।’

मधुमिता आगे बताती हैं, ‘तैयारी खत्म होने के बाद ज्यादा से ज्यादा आंसर राइटिंग की प्रैक्टिस करें और मॉक टेस्ट पेपर दें। इसके बाद अपनी गलतियों को पहचानें और उन्हें सुधारें। इस तरह आप इस परीक्षा को पास कर सकते हैं। साथ ही आप नोट्स भी बना सकते हैं। नोट्स बनाने से आपकी कई चीजें आसान हो जाती हैं।’

बकौल मधुमिता, कई बार आपको नोट्स से कुछ चीजें पढ़नी पड़ती हैं या एग्जाम के समय कुछ चीजें याद नहीं आती हैं तो आप इसका सहारा ले सकते हो। क्योंकि बार-बार किताबों से पढ़नी आसान नहीं होता है। इसलिए हमेशा अपने नोट्स खुद ही बनाने चाहिए जिससे आगे चलकर कोई परेशानी न हो।

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट