डार्क सर्कल्स को दूर करने में कारगर है हल्दी, सोने से पहले इस तरह करें इस्तेमाल

शरीर में खून की कमी, डिहाइड्रेशन, हार्मोन्स में असंतुलन, अनुवांशिक रोग या फिर एजिंग के कारण भी लोगों को डार्क सर्कल्स की परेशानी हो सकती है।

Lifestyle News, Dark Circles, Beauty Tips
आंखों के नीचे पड़े काले घेरे को दूर करने में मदद कर सकती है हल्दी (फोटो क्रेडिट- Indian Express)

स्किन प्रॉब्लम्स में सबसे आम डार्क सर्कल्स यानी आंखों के नीचे काले घेरे पड़ना है। बिजी लाइफस्टाइल, तनाव, दिनभर सिस्टम के आगे बैठकर काम करना और नींद की कमी के कारण आंखों के नीचे काले घरे पड़ जाते हैं। त्वचा संबंधी यह समस्या केवल महिलाओं में ही नहीं बल्कि पुरुषों में भी देखने को मिलती है। आंखों के नीचे पड़े डार्क सर्किल ना सिर्फ देखने में भद्दे लगते हैं बल्कि यह चेहरे को खूबसूरती को भी प्रभावित करते हैं।

डार्क सर्कल्स के कारण: वैसे तो अक्सर डार्क सर्कल्स की समस्या खराब और अव्यवस्थित लाइफस्टाइल के कारण होती है। लेकिन कई बार शरीर में खून की कमी, डिहाइड्रेशन, हार्मोन्स में असंतुलन, अनुवांशिक रोग या फिर एजिंग के कारण भी लोगों को डार्क सर्कल्स की परेशानी हो सकती है। हालांकि एक्सपर्ट्स की मानें तो आंखों के नीचे पड़े काले घेरे की समस्या से छुटकारा दिलाने में घरेलू उपाय कारगर साबित हो सकते हैं।

हल्दी: औषधीय गुणों से भरपूर हल्दी डार्क सर्कल्स से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित हो सकती है। हल्दी में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-ऑक्सीडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण भी पाए जाते हैं, यह ना सिर्फ डार्क सर्कल्स को कम करती है बल्कि अन्य स्किन प्रॉब्लम्स जैसे पिंपल्स और दाग-धब्बे की समस्या भी निजात दिलाती है। आप अलग-अलग तरीकों से रात में सोने से पहले हल्दी पाउडर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

हल्दी और एलोवेरा: इसके लिए थोड़े-से एलोवेरा जेल में एक चुटकी हल्दी पाउडर मिला लें। फिर रात में सोने से पहले इस पेस्ट को अपनी आंखों के नीचे लगाएं। ध्यान रखें की ये पेस्ट आंखों के अंदर ना जा पाए। रात भर के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दें। सुबह उठकर साफ पानी से आंखों को धो लें।

हल्दी और दही: इसके लिए एक चम्मच दही में 2 चम्मच हल्दी और थोड़ा-सा नींबू का रस मिला लें। फिर इस पेस्ट को अपनी आंखों के नीचे लगाकर 15-20 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें। बाद में सादे पानी से चेहरे को धो लें। आप चाहें तो रात में सोने से पहले भी इस नुस्खे को अपना सकते हैं।

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट