ताज़ा खबर
 

अगर आप योग के करेंगे ये आसन तो कंट्रोल रहेगा आपका ब्लड प्रेशर

अगर ब्लड प्रेशर की समस्या से परेशान हैं और दवाई खाने से भी आपको आराम नहीं आ रहा है तो ये योगासन आपकी सहायता करेंगे।

यह चित्र प्रतीक के तौर पर प्रयोग किया गया है

ब्लड प्रेशर ऐसी समस्या है जिससे कई बड़ी समस्याएं हो सकती है जैसे हृदय रोग, शुगर, पैरों में सूजन, आंखों में सूजन आदि। यह शरीर में छुपा एक आपका सबसे बड़ा शत्रु हो सकता है। आजकल की भागदौड़ और स्ट्रेस वाली जिन्दगी में किसी को भी ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है। अगर आप कई समय से ब्लड प्रेशर की दवाई खा रहें और तब भी आपको कोई फर्क नहीं पड़ रहा है तो इन योगासनों को अपनाकर अपने बीपी को कंट्रोल कर सकते हैं। हम ऐसे कुछ आसन बता रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप अपनी बीपी सही रख सकते हैं।
हाई ब्लड प्रेशर ठीक करने वाले योगासन-
शिशुआसन- यह आसन ब्लड के सर्कुलेशन को बेहतर करता है, स्ट्रेस और दिन भर की थकान को मिटाता है। इस आसन में पैरों के बल बैठ कर सामने की ओर झुकें और हाथ उसके आगे फैला कर जमीन पर सिर रख दें।

वृजासन- इस आसन को लंच और डिनर के बाद भी कर सकते हैं। यह आसन ब्लड सर्कुलेशन को अच्छा बनाए रखने में मदद करता है। घुटनों को मोड़कर पैरों के बल बैठें और सिर-कंधे को रखें और उसके बाद हाथों को घुटने पर रख लें।

पश्चिमोत्तानासन- इस आसन को अपनाने से बॉडी में फैट कम हो जाता हैं, जिससे वजन कम होता है। साथ ही यह स्ट्रेस को कम करता है, जिससे हाई ब्लड प्रेशर कम होता है। इस आसन में टांगो को सीधा करें और अपने हाथों से अपने पैरों को पकड़ें। ऐसा 10 मिनट तक करें.

लो ब्लड प्रेशर ठीक करने वाले योगासन-

मत्स्यासन- डिहाइड्रेशन के कारण से भी लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है। यह हार्ट फेल का भी कारण बन सकता है। इस योग को अपनाने से लो ब्लड प्रेशर की समस्या खत्म हो सकती हैं। इस आसन में कमर के बल लेट कर फिर अपनी छाती वाले हिस्से को जमीन से उठाकर अपना सिर जमीन पर लगाएं और हाथों को सीधा करके जमीन पर रखें।

पद्मा सरंगासन- इस आसन को करने से दिमाग और थाइरोइड ग्लांड्स तक ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है। इससे बॉडी रिफ्रेश होती है। इसमें कंधो के बल जमीन पर लेटकर टांगों को पहले सीधा करें फिर उन्हें घुटनों से थोडा मोड़ लें और हाथों को जमीन पर सीधा रखें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App