ताज़ा खबर
 

प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर के लिए जरूरी है ये पोषक तत्व, जानिये कैसा होना चाहिए खानपान

Pregnancy Diet Chart: हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक गर्भधारण करने के बाद महिलाओं को कैल्शियम की अधिक जरूरत होती है

गर्भवती महिलाओं के शरीर में आयरन पर्याप्त मात्रा में होना बहुत आवश्यक है

Diet for Pregnant Lady: गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को अपने खानपान का खास ख्याल रखना चाहिए क्योंकि उनके शरीर को दो लोगों के लिए जरूरी पोषण की आवश्यकता होती है। महिलाओं की अपनी सेहत के प्रति जिम्मेदारी अधिक बढ़ जाती है। इसका कारण है कि उनको खुद के साथ अपने गर्भ में पल रहे शिशु का भी ख्याल रखना पड़ता है। इन नौ महीनों में उनमें कई प्रकार के शारीरिक, मानसिक व भावनात्मक बदलाव आते हैं।

पहली तिमाही में जहां जी मचलाने या फिर मॉर्निंग सिकनेस की परेशानी होती है वजन बढ़ने से लेकर बॉडी फिगर बदलने से भी गर्भवती महिलाएं प्रभावित होती हैं। वहीं, आखिरी के तीन महीनों में अधिक दर्द, तकलीफ और सूजन की समस्या देखने को मिलती है। इन परेशानियों को कम करने के लिए हेल्दी डाइट जरूरी है। डाइट से गर्भवती महिलाएं हेल्दी रहती हैं और शिशु भी स्वस्थ रहता है। आइए जानते हैं कि गर्भावस्था के दौरान महिलाओं का खानपान कैसा होना चाहिए –

आयरन की होगी जरूरत: स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि गर्भवती महिलाओं के शरीर में आयरन पर्याप्त मात्रा में होना बहुत आवश्यक है। बता दें कि इस पोषक तत्व की कमी से महिलाओं को थकान, कमजोरी और बार बार चक्कर आने जैसी शिकायत हो सकती है।

वहीं, इसकी पूर्ति होने से महिलाओं और बच्चों के शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा ठीक बनी रहती है। ऐसे में प्रेग्नेंट महिलाओं को चुकंदर, अनार, आंवला और खजूर को डाइट में शामिल करना चाहिए।

कैल्शियम की करें पूर्ति: हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक गर्भधारण करने के बाद महिलाओं को कैल्शियम की अधिक जरूरत होती है। ऐसा इसलिए क्योंकि ये उन प्रमुख खनिज पदार्थों में से एक है जो शिशु की ओवरॉल डेवलपमेंट के लिए जरूरी है। वहीं, इसकी कमी से प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को कई स्वास्थ्य जटिलताओं का सामना करना पड़ सकता है।

उन्हें ब्लड प्रेशर बढ़ने या फिर प्री-मैच्युर डिलीवरी की परेशानी हो सकती है। ऐसे में प्रेग्नेंसी में कैल्शियम की कमी न हो इसलिए महिलाओं को संतरा, पालक, बीन्स और डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन करना चाहिए।

कार्ब्स भी है जरूरी: प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को थकान और कमजोरी ज्यादा महसूस होती है। ऐसे में उन्हें कार्ब्स का सीमित मात्रा में सेवन करना चाहिए। कार्ब्स के ब्रेकडाउन से ग्लूकोज बनता है जो शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है। महिलाओं को डाइट में कुछ मात्रा में चावल, आलू, दलिया और ब्रेड शामिल करना चाहिए।

Next Stories
1 जब पत्रकार बन आधी रात लालू यादव ने किया लाल कृष्ण आडवाणी को फोन, जानें क्या थी वजह
2 स्कूल में दोस्त को नहीं हरा पाए कुश्ती तो मंत्री बनने के बाद मुलायम सिंह यादव ने फिर दिया था चैलेंज, जानिए क्या थी वजह
3 बालों की लंबाई बढ़ाने के लिए घर में ही बनाएं चावल और मेथी वाला टॉनिक, जानें विधि
ये पढ़ा क्या?
X