ताज़ा खबर
 

बरसात में स्किन की खुजली में बेहद काम आ सकते हैं ये घरेलू उपाय

शरीर में इम्‍यून सिस्‍टम में गड़बड़ी के कारण भी खुजली हो जाती है। खुजली बहुत तेजी से फैलने वाला त्वचा का रोग है। इस रोग में हाथ-पैरो, उंगलियों, कलाई के पीछे के भाग में और बगल में छोटी-छोटी फुंसिया हो सकती हैं।

Author Published on: August 1, 2018 12:54 PM
प्रतीकात्मक चित्र

बारिश के बाद मौसम स्किन को कई तरह के नुकसान हो सकते हैं। इस मौसम में खुद का बचाव करना एक बड़ी चुनौती है। इस मौसम में सर्दी, जुकाम, डेंगू, मलेरिया जैसी तमाम बीमारियों के अलावा तमाम तरह के स्किन इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। रिसर्च के अनुसार, शरीर में इम्‍यून सिस्‍टम में गड़बड़ी के कारण भी खुजली हो जाती है। खुजली बहुत तेजी से फैलने वाला त्वचा का रोग है। इस रोग में हाथ-पैरो, उंगलियों, कलाई के पीछे के भाग में और बगल में छोटी-छोटी फुंसिया हो सकती हैं। यह खराब चीजों को छूने से या संक्रमण होने के कारण हो जाती है। लेकिन खुजली होने पर किसी भी काम में मन नहीं लगता, इंसान चिड़चिड़ा हो जाता है। इसलिए इसको दूर करने के उपाय करना बहुत जरूरी होता है। आइए जानते हैं स्किन की खुजली से छुटकारा पाने के लिए कारगर घरेलू उपाय।

एलोवेरा: अपने मॉइस्चराइजिंग गुणों के कारण एलोवेरा त्‍वचा के लिए वरदान होता है। खुजली वाले स्‍थान पर एलोवेरा के जैल को रगड़ने से यह त्वचा की जलन को कम करने में मदद करता है और खुजली से जल्दी ही राहत प्रदान करता है। इसके लिए घर में लगे एलोवेरा के पौधे की पत्‍ती को काट लें और उसमें से निकलने वाले जेल को खुजली वाली जगह पर लगाएं।

सेब का सिरका: खुजली वाली त्‍वचा के लिए सेब का सिरका बेहद फायदेमंद होता है। इसमें मौजूद एंटीसेप्टिक और एंटीफंगल गुण, इसे खुजली विरोधी एजेंट बनाता है। खुजली वाले स्‍थान पर रूई की सहायता से सेब के सिरके को लगाने से फायदा होता है।

बेकिंग सोडा: बेकिंग सोडा खुजली वाली त्‍वचा के लिए सबसे आम घरेलू उपाय है। यह सभी प्रकार की खुजली के लिए फायदेमंद होती है। इसमें मौजूद सुखदायक और एंटी-इफ्लेमेंटरी गुण प्राकृतिक एसिड नूट्रलाइजर (निष्प्रभाव करना) के रूप में कार्य करता है। इसके इस्‍तेमाल के लिए बेकिंग सोडा के तीन भाग मिश्रण में एक भाग पानी मिलाकर पेस्‍ट तैयार करके प्रभावित त्‍वचा पर लगाएं।

लैवेंडर का तेल: लैवेंडर का इस्तेमाल अच्छी नींद पाने के लिए लाभकारी होता है। यह जीवाणुरोधी गुणों वाला होने के कारण बालों से संबंधित कई समस्याओं से निजात दिलाता है। यह रूसी को खत्म कर बालों का झड़ना रोकता है। यह त्वचा को कोमल और स्वस्थ रखता है। यह एक्जिमा, घाव, अल्सर, जल जाने पर, त्वचा में जलन या खुजली होने प्राकृतिक उपचार के तौर पर इस्तेमाल में लाया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सर्दी-जुकाम से लेकर हार्ट के लिए फायदेमंद है भुट्टा, ऐसे चटपटी चाट बनाकर करें सेवन
2 वजन करना है कम तो अपनी थाली से बाहर करें ये 6 चीजें