ताज़ा खबर
 

बच्चा कंसीव करने में मदद कर सकती है दालचीनी और कलौंजी से बनी ये ड्रिंक्स, इस तरह करें तैयार, आचार्य बाल कृष्ण ने कही ये बात

Tips For Pregnancy: कुछ महिलाओं को कंसीव करने में काफी मुश्किल होती है। हालांकि, इस ड्रिंक का रोजाना और नियमित सेवन करने से गर्भधारण करने में मदद मिलती है।

tips for conceiving, pregnancy tips, lifestyleमहिलाओं में फर्टिलिटी लेवल बढ़ाए ये ड्रिंक (फोटो क्रेडिट- इंडियन एक्सप्रेस)

अक्सर महिलाओं को गर्भधारण करने में काफी मुश्किल होती है। आज के समय में खानपान और जीवन-शैली का असर फर्टिलिटी पर पड़ता है। कभी-कभी तो ऐसी भी होता है कि महिलाएं कंसीव तो कर लेती हैं, हालांकि, गर्भ ठहर नहीं पाता। यह समस्या होर्मोन्स के असंतुलन, पीसीओडी, मोटापे या फिर ओवरी सिस्ट के कारण हो सकती है। ऐसे में घरेलू उपायों के जरिए भी शरीर में फर्टिलिटी शक्ति को बढ़ाया जा सकता है।

आयुर्वेद में ऐसी कई जड़ी बूटियां मौजूद हैं, जो महिलाओं के शरीर में प्रजनन क्षमता को बढ़ाती हैं। इनका सही इस्तेमाल करने से आप गर्भधारण कर सकती हैं।

दालचीनी: लगभग सभी घरों में पाई जाने वाली दालचीनी का इस्तेमाल सदियों से आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति में किया जा रहा है। दालचीनी गर्भधारण करने में समस्या बन रही पीसीरओएस की दिक्कत को ठीक करती है। बता दें, पीसीओएस की समस्या में ओवरी के अंदर सिस्ट बन जाती है, जिसके कारण महिलाओं में इनफर्टिलिटी की दिक्कत होती है और वह बच्चे को कंसीव नहीं कर पातीं।

इसके अलावा आचार्य बालकृष्ण के अनुसार दालचीनी पीरियड्स को भी नियमित करती है। साथ ही प्रसव के बाद इसका सेवन करने से काफी फायदा होता है।  जिन महिलाओं का ब्लड शुगर लेवल हाई होता है, उन्हें भी मां बनने में काफी समस्या आती है। क्योंकि हाई शुगर लेवल की वजह से ओवुलेशन में दिक्कत होती है। ऐसे में दालचीनी ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल कर महिलाओं को गर्भधारण करने में मदद करती है।

कलौंजी: गर्भास्य में फाइब्रॉइड्स बनने के कारण भी महिलाओं को कंसीव करने में दिक्कत आती है। यह फाइब्रॉइड्स यानी सिस्ट संयोजी ऊतकों और नरम मांसपेशी कोशिकाओं से बनती है। हालांकि, कलौंजी के इस्तेमाल से शरीर में बन रही इस सिस्ट को ठीक किया जा सकता है। कभी-कभी जब ओवरी में एग सही तरीके से रिलीज नहीं हो पाता, तब भी सिस्ट बन जाती है, ऐसे में इस फाइब्रॉइड को कलौंजी के जरिए ठीक किया जा सकता है। साथ ही यह पुरुषों में स्पर्म काउंट को बढ़ाती है।

दालचीनी और कलौंजी से इस तरह करें ड्रिंक तैयार: दालचीनी और कलौंजी से बनाई गई ड्रिंक का रोजाना सेवन करने से काफी फायदा मिल सकता है। इसके लिए सबसे पहले दालचीनी और कलौंजी को पीसकर अलग-अलग डिब्बियों में रख दें। फिर एक गिलास गुनगुने पानी में आधा चम्‍मच दालचीनी का पाउडर और आधा कलौंजी का पाउडर डालें। साथ ही इसमें शहद मिलाकर पीने से काफी फायदा हो सकता है।

इस ड्रिंक का सेवन रात को डिनर से आधे घंटे पहले करें। इसके अलावा आप सुबह खाली पेट भी इसका सेवन कर सकती हैं। हालांकि, ध्यान रखें की ड्रिंक के सेवन से आधा घंटे बाद तक कुछ ना खाएं।

Next Stories
1 सूखे-फटे होंठ और झड़ते बाल हो सकते हैं गंभीर बीमारियों के संकेत, जानिये
2 Fashion Tips: स्टाइलिस ड्रेस में दिखना चाहती हैं स्लिम, तो आपनाएं ये फैशन टिप्स
3 Skin Care: पीठ और कंधों पर क्यों होते हैं मुंहासे, छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय
ये पढ़ा क्या?
X