scorecardresearch

Uric Acid: बरसात में ये 6 सब्जियां तेजी से बढ़ा सकती हैं यूरिक एसिड, आज ही बनाएं इनसे दूरी

अगर आप शाकाहारी हैं तो इस मौसम में कुछ सब्जियों से दूरी बना लें। कुछ सब्जियां तेजी से यूरिक एसिड को बढ़ा सकती हैं।

Uric Acid: बरसात में ये 6 सब्जियां तेजी से बढ़ा सकती हैं यूरिक एसिड, आज ही बनाएं इनसे दूरी
पालक का सेवन इस मौसम में नहीं करें। पालक में प्रोटीन और प्यूरीन होता है जो यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ा देता है। photo-freepik

यूरिक एसिड हमारी बॉडी में पाए जाने वाला टॉक्सिन हैं जो सभी की बॉडी में बनता है। इन टॉक्सिन को किडनी फिल्टर करके यूरिन के जरिए बॉडी से बाहर भी निकाल देती है। यूरिक एसिड का बॉडी में बनना परेशानी की बात नहीं है इसका बॉडी में स्टोर होना बीमारियों को बढ़ा सकता है। यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने पर ये खून में मिलने लगता है और हड्डियों में जाकर क्रिस्टल के रूप में जमा होने लगते हैं।

यूरिक एसिड के हड्डियों में जमा होने से हड्डियों की कई बीमारियां पैदा हो जाती है जिसे गाउट कहते हैं। डाइट में प्यूरीन वाले फूड्स यूरिक एसिड को तेजी से बढ़ाते हैं। कुछ फूड्स जैसे पनीर, रेडमीट, राजमा, चावल, रेड मीट, हाई फ्रूक्टोज फूड, सी फूड जैसे सामन, झींगा, झींगा मछली और सार्डिन यूरिक एसिड को तेजी से बढ़ा सकते हैं।

यूरिक एसिड बढ़ने से एड़ियों में दर्द, पिंडलियों में दर्द, घुटनों, जोड़ों में दर्द और जोड़ों में सूजन की परेशानी होने लगती है। यूरिक एसिड बढ़ने से डायबिटीज और किडनी की परेशानी होने का खतरा भी अधिक रहता है। आप भी यूरिक एसिड के बढ़ने से परेशान हैं तो अपनी डाइट का विशेष ध्यान रखें। बरसात के मौसम में डाइट का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। इस मौसम में इंफेक्शन का खतरा अधिक रहता है। अगर आप शाकाहारी हैं तो इस मौसम में कुछ सब्जियों से दूरी बना लें। कुछ सब्जियां तेजी से यूरिक एसिड को बढ़ा सकती है। आइए जानते हैं कि बारिश में किन सब्जियों से परहेज करें ताकि यूरिक एसिड कंट्रोल रहे।

बीन्स से करें परहेज:

गर्मी में पाई जाने वाली बीन्स खाने में स्वादिष्ट लगती हैं लेकिन बरसात के मौसन में ये बॉडी में परेशानी पैदा कर सकती हैं। बरसात के मौसम में बीन्स का सेवन करने से यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने लगता है। बीन्स का बरसात में सेवन करने से बॉडी में सूजन हो सकती है।

पत्ता गोभी से करें परहेज:

पत्ता गोभी का सेवन करने से तेजी से यूरिक एसिड बढ़ सकता है। इसमें प्यूरीन पाया जाता है जो तेजी से बॉडी में प्यूरिन का स्तर बढ़ाता है और बॉडी में यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण दिखने लगते हैं। यूरिक एसिड बढ़ने से मसल्स में दर्द शुरू होने लगता है।

मशरूम से करें परहेज:

बरसात में इंफेक्शन का खतरा ज्यादा रहता है और बीमारियां तेजी से पनपनती हैं। इस मौसम में मशरूम का सेवन आपकी सेहत का ग्राफ बिगाड़ सकता है। मशरूम में प्यूरीन की मात्रा अधिक होती है जो तेजी से यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ा सकती है।

सूखे मटर से रहे दूर:

मटर का स्वाद खाने में अच्छा लगता है लेकिन ये यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ा सकता है। बरसात में आप भी चाहते हैं कि हेल्दी रहें तो मटर से परहेज करें।

हरी पत्तेदार सब्जियां बढ़ा सकती है यूरिक एसिड

हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन बरसात में करना ठीक नहीं हैं। ये सब्जियां यूरिक एसिड को बढ़ा सकती हैं साथ ही इनसे इंफेक्शन का खतरा भी अधिक होता है। पालक का सेवन इस मौसम में नहीं करें। पालक में प्रोटीन और प्यूरीन होता है जो यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ा देता है।

बैंगन और अरबी से करें परहेज:

बरसात में बैंगन और अरबी का सेवन आपकी परेशानी को बढ़ा सकता है। बैंगन और अरबी में प्यूरीन की मात्रा अधिक होती है। इसका सेवन करने से बॉडी में प्यूरिन का स्तर बढ़ने लगता है। प्यूरिन का स्तर बढ़ने से मसल्स में दर्द और सूजन की परेशानी होती है। जिन लोगों का यूरिक एसिड हाई रहता है वो इन सब्जियों से परहेज करें।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट