ताज़ा खबर
 

Teacher Day 2020: जानिये- शिक्षक दिवस का इतिहास, महत्व और इससे जुड़ी रोचक बातें

Teacher's Day (शिक्षक दिवस) 2020: एक बार जब डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्ण के सहयोगियों नें उनसे उनका जन्मदिवस मनाने के बारे में पूछा तो उन्होंने इच्छा जाहिर करते हुए कहा कि “मेरे जन्मदिन को मनाने की जगह यदि इस दिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए, तो मुझे ज्यादा खुशी होगी।"

Teacher’s Day 2020: पूर्व राष्ट्रपति का एस राधाकृष्णन का जन्मदिवस शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है। (Source: Abhishek Singh/Twitter)

Teacher’s Day 2020: भारत में हर साल 5 सितंबर को देश के दूसरे राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्ण के जन्मदिवस के अवसर पर शिक्षक दिवस मनाया जाता है। उन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में कई अहम योगदान दिये थे और अपने जीवन के 40 वर्ष तक अध्यापन का कार्य किया। वे एक राजनीतिज्ञ, विद्वान, और दार्शनिक थे। उन्हे जीवन में कई सम्मान से नवाजा गया। जब 1917 में उनकी पहली किताब “The Philosophy of Rabindranath Tagore” आई तब विश्व को भारत के दर्शनशास्त्र की महत्ता पता चली। वे 1931-36 तक आंध्र विश्वविद्यालय के कुलपति रहे। 1936-52 के बीच ऑक्सफोर्ड विश्विद्यालय में अध्यापन किया। डॉ. राधाकृष्णन कुछ समय के लिए बनारस हिंदू विश्विद्यालय के कुलपति भी रहे। उन्हें साल 1936 में नाईटहुड के सम्मान से और 1952 में भारत रत्न से नवाजा गया था।

कैसे हुई शिक्षक दिवस की शुरुआत?: एक बार जब डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्ण के सहयोगियों नें उनसे उनका जन्मदिवस मनाने के बारे में पूछा तो उन्होंने इच्छा जाहिर करते हुए कहा कि “मेरे जन्मदिन को मनाने की जगह यदि इस दिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए, तो मुझे ज्यादा खुशी होगी।” इसके बाद से राधाकृष्णन का जन्मदिन शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाने लगा। आधिकारिक तौर पर 5 सितंबर 1962 से भारत में शिक्षक दिवस मनाने की शुरुआत हुई।

शिक्षक दिवस की महत्ता: यह दिन इसलिए ख़ास है क्योंकि किसी भी शख़्स के जीवन को संवारने में उसके गुरु का अहम योगदान होता है। गुरु एक घड़े की तरह अपने छात्र को गढ़ता है, संवारता है। उनकी इसी मेहनत के लिए हम शिक्षक दिवस के मौके पर उनके प्रति अपना आभार व्य़क्त करते हैं। अपने शिक्षकों को सम्मानित करते हैं। यूं तो शिक्षकों के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए किसी खास दिन की जरूरत नहीं है, लेकिन शिक्षक दिवस एक ऐसा दिन है जो हमारे जीवन में शिक्षकों की भूमिका को रेखांकित करता है और उनके समर्पण की याद दिलाता है।

शिक्षक दिवस के मौके पर देश भर में तमाम कार्यक्रम आयोजित किये जाए जाते हैं। स्कूल-कॉलेजों में विशेष आयोजन होता है। शिक्षकों को सम्मानित किया जाता है। सरकार की तरफ से भी और शैक्षणिक संस्थाओं की ओर से भी शिक्षा के क्षेत्र में अच्छा काम करने वाले शिक्षकों को पुरस्कार और सम्मान दिया जाता है।

अन्य देशों में कब मनाया जाता है शिक्षक दिवस?: दुनिया के तमाम देशों में शिक्षक दिवस मनाया जाता है। भारत में 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। तो वहीं यूएस में मई के पहले सप्ताह के मंगलवार को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। इसी तरह थाईलैंड में हर वर्ष 16 जनवरी को, ईरान में 2 मई को, टर्की में 24 नवंबर को मलेशिया में 16 मई को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। इसी तरह रूस में वर्ष 1965 से 1994 तक अक्टूबर के पहले रविवार को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता था। वर्ष 1994 में यूनेस्को द्वारा विश्व शिक्षक दिवस घोषित होने के बाद 5 अक्टूबर को शिक्षक दिवस मनाया जाने लगा। वहीं, चीन में 10 सितंबर को टीचर डे मनाया जाता है।

Next Stories
1 खेत में हल चलाते नजर आए बाबा रामदेव, बोले- जन्म किसान परिवार में हुआ लेकिन कर्म से योगी बना; हुए ट्रोल
2 COVID-19: प्रेग्नेंसी में गिलोय का सेवन है खतरनाक, ये 5 साइड इफेक्ट भी जान लीजिए
3 Birthday Special: जब फटे जूते सिल क्रिकेट खेला करते थे इशांत शर्मा, अब 1-2 मैच के बाद ही बदल देते हैं जूते
ये पढ़ा क्या?
X