ताज़ा खबर
 

इस कारण लंबे लोगों में होती है कैंसर होने की ज्यादा आशंका, रिसर्च में दावा

लंबे लोगों में कैंसर से ग्रसित होने की संभावना ज्यादा होती है। पुरुषों और महिलाओं दोनों में समान्य से 10 सेंटीमीटर अधिक हाइट होने पर 10 प्रतिशत तक कैंसर से ग्रसित होने की संभावना बढ़ जाती है।

लंबे लोगों को कैंसर से ग्रसित होने की संभावना ज्यादा होती है।

लंबे होने के कई फायदे होते हैं। व्यक्ति की हाइट अच्छी होने पर वह उनकी पर्सनालिटी में चार चांद लगा देती है। मगर जिस तरह के लंबी हाइट के फायदे होते हैं ठीक उसी तरह इसके नुकसान भी होते हैं। लंबी हाइट कई बार आपके लिए हानिकारक साबित हो सकती है। एक स्टडी के मुताबिक लंबे लोगों को कैंसर होने की संभावना ज्यादा होती है। पुरुषों और महिलाओं दोनों में समान्य से 10 सेंटीमीटर अधिक हाइट होने पर 10 प्रतिशत तक कैंसर से ग्रसित होने की संभावना बढ़ जाती है। लंबे लोगों के शरीर में ज्यादा कोशिकाएं होती हैं जिसकी वजह से कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है।

शरीर का कोशिकाओं की ग्रोथ पर जब कंट्रोल रुक जाता है तब कैंसर विकसित होने लगता है। जिसकी वजह से असमान्य कोशिकाएं बनने लगती हैं और ट्यूमर बन सकता है। स्टडी के मुताबिक लंबे लोगों में कैंसर होने की संभावना ज्यादा होती है क्योंकि उनके शरीर में अधिक कोशिकाएं होते हैं जिसकी वजह से वह कैंसर से जल्दी ग्रसित हो सकते हैं।

स्टडी के मुताबिक महिलाओं की औसत लंबाई 162 सेमी(5 फीट, 4 इंच) और पुरुषों की औसत लंबाई 175 सेमी( 5 फीट, 9 इंच) मानी गई है।

लंबे लोगों को मेलेनोमा का खतरा ज्यादा होता है क्योंकि उनके शरीर में कोशिकाएं अधिक होती हैं। जिसकी वजह से लंबे लोगों को औसत लोगों की तुलना में त्वचा संबंधी समस्याएं हो जाती हैं। मगर पेट, मुंह और सर्विकल कैंसर महिलाओं को लंबाई से प्रभावित होकर नहीं होती है।

रिसर्च के मुताबिक लंबी महिलाओं को कैंसर होने का खतरा 12 प्रतिशत और लंबे पुरुषों को कैंसर होने का खतरा 9 प्रतिशत तक होता है। कोलन, किडनी और लिम्फोमा कैंसर सबसे ज्यादा लंबाई के मामलों में देखा गया है।

लंबाई के साथ आपका लाइफस्टाइल भी कैंसर से ग्रसित होने के खतरे को बढ़ा सकता है। कैंसर से बचने के लिए व्यक्ति को एक्सरसाइज करना चाहिए साथ ही धूम्रपान नहीं करना चाहिए। अगर आपकों कैंसर के कोई भी लक्षण दिखें तो तुरंत डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App