ताज़ा खबर
 

पोषक तत्वों की कमी की वजह से भी फटती हैं एड़ियां, जानें क्या है इसका समाधान

कैल्शियम की कमी और बढ़ती उम्र की वजह से भी एड़ियां फटने लगती हैं

प्रतीकात्मक चित्र

एड़ियों के फटने के कई कारण हो सकते हैं। सर्दियों में अक्सर शुष्क हवा की वजह से एड़ियों के फटने की समस्या सामने आती है। लेकिन इनके कई अन्य कारण भी होते हैं। शरीर में कई तरह के पोषक तत्वों की कमी भी इसका एक कारण हो सकती है। गलत तरीके से फुटवियर पहनना, लंबे समय तक खड़े रहना, हाई हील्स आदि वजहों से भी एड़ियों के फटने की समस्या सामने आती है। आइए, जानते हैं कि और किन वजहों से हमारी एड़ियां फटती हैं –

कैल्शियम की कमी – हमारे शरीर में सीबम का निर्माण ही हमारी त्वचा की कोमलता के लिए जिम्मेदार होता है। शरीर में कैल्सियम की कमी से यह काफी कम मात्रा में बनता है। चूंकि एड़ियों की त्वचा बेहद मोटी होती है, इसलिए सीबम त्वचा की ऊपरी सतह तक नहीं पहुंच पाता। ऐसे में एड़ियां रूखी होकर फटने लगती हैं।

बढ़ती उम्र और बीमारियों की वजह से – बढ़ती उम्र के साथ-साथ त्वचा का रूखापन बढ़ता जाता है। इसके अलावा सोराइसिस, मोटापा और आर्थराइटिस जैसी बीमारियों की वजह से भी एड़ियां फटती हैं।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XA Dual 16 GB (White)
    ₹ 15940 MRP ₹ 18990 -16%
    ₹1594 Cashback
  • Honor 7X 64 GB Blue
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback

फटी एड़ियों से निजात पाने के कई घरेलू नुस्खे हैं, जिन्हें आजमाकर इससे छुटकारा पाया जा सकता है –

नारियल के तेल से – रात को सोने से पहले अपनी फटी एड़ियों पर नारियल का हल्का गर्म तेल लगाकर मसाज करें। उसके बाद मोजे पहनकर सो जाएं। दस दिनों तक ऐसा करके आप फटी एड़ियों से छुटकारा पा सकते हैं।

शहद – पैरों को कोमल बनाने का यह अचूक नुस्खा है। इसमें आप पानी में आधा कप शहद मिला लें और उसमें अपने पैरों को डुबोकर बैठ जाएं। 20 मिनट बाद पैरों को बाहर निकालें और तौलिये से हल्के से पोछ लें।

ऑलिव ऑयल – हर हफ्ते थोड़ा सा ऑलिव ऑयल लेकर अपनी एड़ियों की मालिश करें और फिर कुछ देर के लिए उसे छोड़ दें। कुछ दिनों बाद पैर मुलायम हो जाएंगे।

सरसो के तेल से – एड़ियों को मुलायम रखने के लिए उनकी नियमित सफाई बेहद जरूरी है। हर रोज पैरों की सफाई करने के बाद उन पर सरसो के तेल से मालिश कर एड़ियों के फटने की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App