ताज़ा खबर
 

क्या सनस्क्रीन लगाने से घट जाता है कैंसर का खतरा? जानिए जवाब

अब तक हम सभी धूप से बचने और सूरज की हानिकारक किरणों से बचने के लिए सनस्क्रीन लगाते थे लेकिन एक शोध में पाया गया है कि सनस्क्रीन स्किन कैंसर के खतरे को कम करती है।

Author नई दिल्ली | December 11, 2018 4:31 PM
सनस्क्रीन लगाने से मेलानोमा का खतरा 40 प्रतिशत तक कम होता है।

युवा-वयस्क लोग जो हर रोज सनस्क्रीन का इस्तेमाल करते हैं उनमें मेलानोमा का खतरा 40 प्रतिशत तक कम होता है। एक नए शोध में यह बात पता चली है। पिछले दो दशकों से यह एक विवादित मुद्दा था कि सनस्क्रीन के उपयोग से मेलानोमा के खतरे को कम किया जा सकता है या नहीं और हाल ही में किए गए इस शोध में इस बात का खुलासा किया गया है कि यह सच है। मेलानोमा एक प्रकार का स्किन कैंसर है, विश्वभर में जिसके मामले हर साल बढ़ रहे हैं।

वर्ल्ड हेल्थ ऑग्रेनाइजेशन के अनुसार, हर साल विश्वभर में 2-3 नॉन मेलानोमा स्किन कैंसर और 1.32 लाख मेलानोमा स्किन कैंसर के मामले सामने आते हैं। विश्वभर में मेलानोमा के मामले बढ़ रहे हैं और विशेषज्ञ इसका मुख्य कारण सूरज की किरणों के अधिक संपर्क में रहना मानते हैं।

यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी ऑस्ट्रेलिया द्वारा कराए गए इस शोध के अनुसार, सनस्क्रीन का इस्तेमाल करने से आप सूरज की हानिकारक किरणों के प्रभाव से बचते हैं। इस कारण सनबर्न और स्किन पिगमेंटेशन की समस्याएं कम होती है। परिणामस्वरुप स्किन कैंसर की संभावनाएं भी कम हो जाती हैं।

रिसर्च के मुख्य लेखक एनी कस्ट ने कहा, विशेष रूप से बचपन में, मेलानोमा के जोखिम की प्रमुख वजह सूरज की किरणें से संपर्क और सनबर्न होने को माना जाता रहा है और इस अध्ययन से पता चला है कि नियमित रूप से सनस्क्रीन लगाने से सूर्य के संपर्क में आने के होने वाले हानिकारक प्रभावों को कम करता है और स्किन कैंसस से सुरक्षा देता है।

कस्ट का कहना है कि लोगों को नियमित रूप से सनस्क्रीन के उपयोग के लिए तैयार करना काफी मुश्किल काम है। आज के समय में भी सनस्क्रीन का इस्तेमाल करने वाले लोगों में महिलाएं और युवा ज्यादा हैं। जो लोग सनस्क्रीन का इस्तेमाल कम करते हैं उनमें वयस्क पुरुष, कम शिक्षित लोग, और डार्क स्किन वाले लोग शामिल थे।

बता दें कि इस रिसर्च के दौरान 18 से 40 साल की उम्र के 1700 लोगों पर अध्ययन किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X