ताज़ा खबर
 

मॉनसून में खराब होती स्किन को दें मुल्तानी मिट्टी का सहारा, जानिये इस्तेमाल करने का सही तरीका

Skincare Tips during Monsoon: अगर आपकी त्वचा अत्याधिक तैलीय या रूखी नहीं है तो फिर भी आप मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल करके अपने चेहरे में ग्लो बढ़ा सकते हैं

skin care, skin care tips, skincare routine, skin care during monsoon, multani mittiअत्याधिक तैलीय त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी बहुत गुणकारी होती है, साथ ही पिंपल्स प्रॉब्लम्स से भी निजात मिलती है

Skincare Tips: मानसून के समय स्किन की देखभाल के लिए सबसे उचित समय होता है क्योंकि इन दिनों में मौसम सर्दी या गर्मी के मौसम की तरह नहीं होता है, बल्कि सौम्य होता है। वातावरण में पर्याप्त नमी भी होती है और अत्याधिक शीतलता या गर्मी नहीं होती है। हालांकि, हवा में मौजूद ह्यूमिडिटी त्वचा को प्रभावित कर सकती है। वहीं, इस मौसम में त्वचा को लगातार हाइड्रेट करने की सख्त जरूरत होती है। नहीं तो रूखी त्वचा और उसकी वजह से कई तरह की समस्याओं से जूझना पड़ सकता है। इन दिनों में आपके स्किन केयर की रूटीन में मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग आपके त्वचा की देखभाल करने में बहुत सहायता करेगा। आइए जानते हैं कैसी स्किन के लिए करना चाहिए मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग –

ऑयली स्किन: जिन लोगों की स्किन ज्यादा ऑयली होती है, उन्हें कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इन समस्याओं में सबसे ऊपर पिंपल्स का नाम शामिल होता है। बता दें कि जब आपके रोम छिद्र आपके त्वचा के तैलीय परत से ढक जाते हैं, तब पिंपल्स बनने लगते हैं। अत्याधिक तैलीय त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी बहुत गुणकारी होती है, साथ ही पिंपल्स प्रॉब्लम्स से भी निजात मिलती है।

सबसे पहले दो बड़े चम्मच मुल्तानी मिट्टी में एक बड़ा चम्मच गुलाब जल मिलाना चाहिए और उसके बाद थोड़े पानी के साथ इसे फूलने के लिए छोड़ देना चाहिए। जब मिश्रण अच्छी तरह से पानी सोख ले तो तब उस पेस्ट को सीधे स्किन पर लगाकर 20 मिनट तक रहने दें। सूखने के बाद उसे हल्के गुनगुने पानी से धो लेना चाहिए और चेहरे पर कोई क्रीम या फिर गुलाब जल लगाना चाहिए।

ड्राय स्किन: रूखी सूखी त्वचा के लोगों के लिए मुल्तानी मिट्टी बहुत कारगर साबित होती है क्योंकि मुल्तानी मिट्टी चेहरे पर लगाने से त्वचा को पोषण मिलता है। साथ ही इससे स्किन में नमी भी बरकरार रहती है। सबसे पहले दो बड़े चम्मच मुल्तानी मिट्टी लेकर उसमें लगभग उससे आधे मात्रा में एलोवेरा डालें।  उसके बाद एक छोटा चम्मच शहद डालकर उसे अच्छी तरह से मिला लें। 20 मिनट तक इस पेस्ट को चेहरे पर लगाने के बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें और फिर गुलाब जल लगाएं। सप्ताह में दो बार मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग करने से रूखी त्वचा के लोगों के चेहरे पर पर्याप्त नमी बनी रहती है।

नॉर्मल स्किन: अगर आपकी त्वचा अत्याधिक तैलीय या रूखी नहीं है तो फिर भी आप मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल करके अपने चेहरे में ग्लो बढ़ा सकते हैं। इसके लिए आपको दो बड़े चम्मच मुल्तानी मिट्टी को लेकर उसमें पानी या गुलाब जल डालकर पेस्ट बना लें। चेहरे पर लगाकर सूखने तक इसे रहने दें। फिर गुनगुने पानी से उसे धोकर चेहरे पर कोई सौम्य क्रीम लगा सकते हैं। हफ्ते में कम से कम एक बार मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग करने से आपके सामान्य त्वचा का निखार बढ़ेगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘Tarak Mehta Ka Oolta Chashma’ के तारक मेहता असल जिंदगी में हैं एक बेटी के पिता, महंगी गाड़ियों का भी रखते हैं शौक, जानिये इनकी लाइफस्टाइल….
2 White Hair: सफेद बालों को काला करने के लिए देसी घी का करें इस्तेमाल, जानिये और क्या हैं इसके फायदे
3 जब बाबा रामदेव की बग़ल में बैठ शिल्पा शेट्टी गिना रही थीं योग के फ़ायदे, साथ किए थे आसन
यह पढ़ा क्या?
X