संजय दत्त दे रहे थे ऑटोग्राफ, बीच में ही प्रशंसकों पर बिगड़ गए थे लालू यादव, जानें क्या था मामला

लालू प्रसाद यादव के लिए चुनाव प्रचार करने के लिए संजय दत्त एक बार बिहार गए थे। यहां संजय फैन्स को ऑटोग्राफ देने लगते हैं, जिससे लालू यादव लोगों पर नाराज़ हो जाते हैं।

Lalu Prasad Yadav
बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव (फाइल फोटो)

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव अपने बेबाक अंदाज के लिए जाने जाते हैं। एक बार ऐसा ही हुआ था जब उनका ये अंदाज कैमरे पर भी कैद हो गया था। अब उनका ये पुराना वीडियो वायरल हो रहा है, इसमें लालू प्रसाद यादव के साथ एक्टर संजय दत्त नज़र आ रहे हैं। इस दौरान संजय दत्त ने समाजवादी पार्टी जॉइन की थी। इसके बाद संजय दत्त ने पार्टी के प्रचार का जिम्मा भी संभाला था।

लालू प्रसाद यादव की रैली में प्रचार करने के लिए संजय दत्त बिहार के बक्सर पहुंचे थे। यहां संजय के फैन्स बार-बार मंच की तरफ आगे बढ़ने लगते हैं। दरअसल फैन्स संजय दत्त के साथ एक तस्वीर क्लिक करवाना चाहते थे और ऑटोग्राफ लेने के लिए बार-बार कागज और कलम मंच की तरफ उछाल रहे थे। संजय दत्त अपने फैन्स को ऑटोग्राफ देने भी लग जाते हैं। साल 2009 के लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान हुई इस रैली में संजय दत्त ने जोरदार भाषण भी दिया था।

संजय दत्त के बाद लालू प्रसाद यादव के भाषण देने की बारी आती है। लालू भाषण देना ही शुरू करते हैं कि भीड़ ‘संजू बाबा’ के नारे लगाना शुरू कर देती है। भाषण की लय टूटने के बाद लालू लोगों को डांट लगानी शुरू कर देते हैं। लालू चीखकर कहते हैं, ‘ये तुम क्या लिखवा रहे हो? कौन सा ऑटोग्राफ चाहिए तुम्हें? बहुत कमांडो बन रहे हो। नीचे बैठ जाओ चुपचाप।’

संजय दत्त लड़ना चाहते थे चुनाव: मंच पर इस दौरान मुलायम सिंह यादव और दिवंगत राजनेता अमर सिंह भी मौजूद थे। रिपोर्ट के मुताबिक, अमर सिंह के कहने के बाद ही संजय दत्त ने समाजवादी पार्टी जॉइन की थी। वह 2009 के लोकसभा चुनाव से राजनीति में एंट्री भी करना चाहते थे, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। संजय दत्त ने पार्टी के लिए इस दौरान जोरदार प्रचार किया था।

बता दें, 2009 के लोकसभा चुनाव में चौथा मोर्चा बना था। इसमें समाजवादी पार्टी, राष्ट्रीय जनता दल और लोक जनशक्ति पार्टी ने साथ चुनाव लड़ा था। दरअसल इनकी UPA के साथ सीट बंटवारे को लेकर सहमति नहीं बन पाई थी। हालांकि चुनाव के नतीजे घोषित होने के बाद चौथे मोर्चे ने भी यूपीए सरकार को समर्थन देने का फैसला किया था।

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट