इधर रेखा ने शपथ ली, उधर जया बच्चन ने राज्यसभा में बदलवा ली थी अपनी सीट- जानें पूरा किस्सा

15 मई 2012 को जब रेखा राज्यसभा में शपथ ले रही थीं, तब जया बच्चन भी उस वक्त वहां मौजूद थीं। उनके शपथ के दौरान बार-बार कैमरामैन जया बच्चन का क्लोजअप शॉट बना रहे थे।

Lifestyle, Lifestyle News, Rekha And Jaya Bachchan
जया बच्चन और रेखा (फोटो क्रेडिट- PTI)

साल 2012 में जब कांग्रेस ने अभिनेत्री रेखा को राज्यसभा भेजने का ऐलान किया तो सब दंग रह गए थे। रेखा की सियासत में कोई दिलचस्पी नहीं थी। खुद उन्होंने कई मौकों पर साफ साफ कहा भी था। रेखा का कहना था कि उन्हें नेताओं की सड़ी जिंदगी के बारे में जानने की कोई दिलचस्पी नहीं है। 
कांग्रेस के इस फैसले के पीछे कई वजहें गिनाई गईं। सियासी गलियारों में कहा गया कि जया बच्चन को काउंटर करने के लिए रेखा को राज्यसभा भेजने का फैसला लिया गया। 

वरिष्ठ पत्रकार यासिर उस्मान रेखा की जीवनी में लेखक और पत्रकार राशिद किदवई के हवाले से लिखते हैं, रेखा एक ऐसी शख्स हैं जिन्हें राजनीति से इतनी नफरत थी कि उन्होंने अखबार तक पढ़ना छोड़ दिया था। 

किदवई कहते हैं कि रेखा को राज्यसभा में भेजने के पीछे की राजनीति को बहुत आसानी से समझा जा सकता है। यह ठीक उसी तरह है जब कांग्रेस का अमिताभ बच्चन से रिश्ता तल्ख हुआ तो फिल्म इंडस्ट्री में उनके प्रतिद्वंदी राजेश खन्ना को राजनीति में आने का प्रस्ताव दे दिया गया था।

कैमरामैन पर बिफर पड़ी थीं जया: यासिर उस्मान अपनी किताब में लिखते हैं कि 15 मई 2012 को जब रेखा राज्यसभा में शपथ ले रही थीं, तब जया बच्चन भी उस वक्त वहां मौजूद थीं। उनके शपथ के दौरान बार-बार कैमरामैन जया बच्चन का क्लोजअप शॉट बना रहे थे। इससे वह नाराज हो गईं और सार्वजनिक तौर पर अपनी आपत्ति जताई थी। 

बदलवा ली थी अपनी सीट: उस्मान लिखते हैं कि रेखा के खिलाफ जया बच्चन की चिढ़ तब और साफ तौर पर उभर कर सामने आई जब उन्होंने अपनी सीट बदलवा ली थी। दरअसल, जया बच्चन पहले 91 नंबर की सीट पर बैठती थीं। रेखा को 99 नंबर सीट आवंटित हुई, जो 91 के काफी करीब थी। ऐसे में जया बच्चन ने अपनी सीट बदलवाकर 91 से 143 करवा ली थी। 

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट