ताज़ा खबर
 

ओणम पर 440 करोड़ की शराब पी गए केरल वाले

दस दिनों तक मनाये जाने वाले इस उत्सव में पिछले साल तकरीबन 411.14 करोड़ रूपए के शराब की खरीददारी की गई थी.
ओणम के दौरान राज्य में शराब की खूब बिक्री होती है।

दस दिनों तक चलने वाले ओणम उत्सव के दौरान इस बार केरल में शराब की रिकार्डतोड़ बिक्री हुई है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार केरलवासियों ने इस बार शराब पर तकरीबन 440 करोड़ रूपए खर्च कर दिए। दस दिनों तक मनाये जाने वाले इस उत्सव में पिछले साल तकरीबन 411.14 करोड़ रूपए के शराब की खरीददारी की गई थी, जबकि इस बार यह आंकड़ा 440.6 करोड़ तक पहुंच गया है। ओणम के मौके पर शराब की सबसे ज्यादा 71.17 करोड़ रूपए की खरीददारी रविवार को रिकॉर्ड की गई जो कि पिछले साल के मुकाबले तकरीबन 12 करोड़ रूपए ज्यादा है। पिछले साल यह आंकड़ा 59.51 करोड़ रूपए था।

केरल राज्य ब्रेवरीज कार्पोरेशन लिमिटेड राज्य में शराब की थोक बिक्री का काम करता है। इसने त्रिशूर जिले के इरांजलकुडा में रिकार्डतोड़ शराब की बिक्री की है। रविवार को इरांजलकुडा में 29.46 करोड़ रूपए के शराब बिके हैं। ओणम केरल का सबसे बड़ा त्योहार है, जो हर साल वहां के लोगों द्वारा बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। इस साल यह त्योहार 25 अगस्त से मनाया जा रहा था। रविवार यानी कि 3 सितंबर को ओणम का आखिरी दिन था। इस दिन शराब की बिक्री ने सारे रिकार्ड तोड़ दिए थे। ओणम के दौरान राज्य में शराब की ज्यादा खपत को देखते हुए पिछले साल शराब की बिक्री को ऑनलाइन करने का निर्णय लिया गया था।

बता दें कि ओणम केरल का सबसे लोकप्रिय और प्राचीन त्योहार है जो राजा बलि की याद में मनाया जाता है। पुराणों के मुताबिक केरल के राजा बलि ने भगवान विष्णु के अवतार वामन को अपना सारा साम्राज्य दान कर दिया था। राजा बलि अपनी प्रजा से बेहद प्रेम करते थे। इसलिए उनके जाने के बाद उनकी प्रजा काफी दुखी हो गई थी। ऐसा माना जाता है कि हर साल राजा बलि एक दिन के लिए अपनी प्रजा से मिलने आते हैं। और इसी उपलक्ष्य में ओणम उत्सव मनाया जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.