गरीब दा मुंडा जेट पर चढ़ गया तो क्या तकलीफ है? सिद्धू संग पंजाब CM की तस्वीर हुई वायरल तो दी ऐसी सफाई

नवजोत सिंह सिद्धू के साथ पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी की तस्वीर वायरल हो रही है। इस पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा था, ‘गरीब दा मुंडा जेट पर चढ़ गया तो क्या तकलीफ है?’

Charanjit Singh Channi,Navjot Singh Sidhu
नवजोत सिंह सिद्धू के साथ पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी (Photo- Sherryontopp/Twitter)

पंजाब के नवनियुक्त मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। इसमें वह पंजाब कांग्रेस के चीफ नवजोत सिंह सिद्धू, उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा और सिद्धू के एक रिश्तेदार के साथ प्राइवेट जेट के सामने खड़े हुए दिख रहे हैं। अब विरोधी दल उनकी इस तस्वीरों को मुद्दा बना रहे हैं और उन पर जनता के पैसे का दुरुपयोग करने का आरोप लगा रहे हैं। चन्नी ने इस मुद्दे पर अपना पक्ष रखा, लेकिन ये खुलासा नहीं किया कि उनकी इस राइड के लिए भुगतान किसने किया था।

चरणजीत सिंह चन्नी ने अन्य पार्टी नेताओं के साथ दिल्ली आने के लिए इस फ्लाइट का इस्तेमाल किया था। मंगलवार को जब उनसे इस पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘गरीब दा मुंडा जेट पर चढ़ गया तो क्या तकलीफ है?’ ‘NDTV’ के रिपोर्टर ने इस पर उनसे पलटकर दोबारा सवाल पूछा, ‘क्या ये प्राइवेट फ्लाइट थी या करदाताओं के पैसे से इसका भुगतान किया गया था?’ वह इस सवाल से थोड़ा नाराज़ नजर आए और बिना जवाब दिए सीधा कार में जाकर बैठ गए।

सिद्धू के ट्वीट के खड़ा हुआ विवाद: चरणजीत सिंह चन्नी ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद खुद को ‘आम आदमी’ बताया था। अब आम आदमी पार्टी और अकाली दल उनके इसी बयान का हवाला देते हुए तंज कस रहे हैं। नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने ट्विटर अकाउंट से भी एक तस्वीर शेयर की थी। तस्वीर में दिख रहे सभी लोगों को दिल्ली में कांग्रेस हाईकमान ने बुलाया था।

अकाली दल का कहना है कि पंजाब से दिल्ली की दूरी सिर्फ 250 किलोमीटर की है और इसके लिए भी सीएम ने प्राइवेट जेट का इस्तेमाल किया है। वहीं, दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी ने कहा कि कांग्रेस अपनी शाही आदतें छोड़ नहीं पा रही है। पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह भी इस पर चुप नहीं बैठे और उन्होंने सिद्धू समेत सबके ऊपर तंज कसते हुए ट्वीट किया है।

पंजाब के वित्तीय संकट का हवाला देते हुए अमरिंदर सिंह ने ट्वीट में लिखा, ‘वाह क्या गरीबों की सरकार है! चार लोगों को ले जाने के लिए एक 16 सीटर लियरजेट, जबकि पांच सीटों वाला आधिकारिक हेलिकॉप्टर उपलब्ध था। यह तब है जब पंजाब वित्तीय संकट से जूझ रहा है।’ बता दें, ये पूरा विवाद नवजोत सिंह के द्वारा ट्विटर पर शेयर की एक तस्वीर से शुरू हुआ है। उन्होंने ही ये तस्वीर शेयर करते हुए लिखा था, ‘कर्तव्य के क्रम में (In line of duty)’

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट