ताज़ा खबर
 

गर्भवास्था में मीठे पेय पदार्थ का सेवन शिशु में बढ़ाता है मोटापा

5.1 प्रतिशत महिलाओं में नियमित तौर पर इन पदार्थो का सेवन पाया गया और उनकी संतान के पहले साल में मोटापे के दोगुने जोखिम की संभावना देखी गई।

Author न्यूयॉर्क | Published on: May 13, 2016 3:55 AM
pregnancy, pregnancy care, pregnancy care in hindi, pregnancy care tips, pregnancy health tips in hindi, baby health, foetus health tips in hindi, how to make healthy pregnancy, music during pregnancy, noise during pregnancy, health tips in hindi, health news in hindi, beauty tips in hindi, healthy life tips in hindi, health, lifestyle news in hindi, healthy lifestyle, healthy lifestyle tips in hindi, jansattaतस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है।

कनाडा की यूनिवर्सिटी ऑफ मैनीटोबा के मुख्य लेखक मेघन आजाद ने बताया, “हमारे अध्ययन ने वह पहला मानव साक्ष्य उपलब्ध कराया है, जो बताता है कि गर्भावस्था के दौरान कृत्रिम मीठे पेय पदार्थों की खपत शिशु के वजन परिवर्तन से जुड़ी हुई है।” इस अध्ययन के लिए शोधार्थियों ने 3,033 मां-शिशु की जोड़ी का आकलन किया। इस दौरान मां द्वारा गर्भावस्था में लिए जाने वाले पेय पदार्थो का शिशु के बॉडी मास इंडेक्स पर पड़ने वाले प्रभावों का अध्ययन किया गया।

शोध में 30 प्रतिशत महिलाओं ने कृत्रिम पेय पदार्थो जैसे सॉफ्ट ड्रिंक और चाय-कॉफी के सेवन की बात स्वीकारी। वहीं 5.1 प्रतिशत महिलाओं में नियमित तौर पर इन पदार्थो का सेवन पाया गया और उनकी संतान के पहले साल में मोटापे के दोगुने जोखिम की संभावना देखी गई। यह शोध अमेरिकी पत्रिका जेएएमए पीडियाट्रिक्स में प्रकाशित हुआ है।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Video: यहां देखें कैसी होती है बैचलर्स की लाइफस्टाइल
2 अक्षय तृतीयाः जानें, कब है खरीददारी का मुहूर्त और इस बार बना है कौन सा दुर्लभ संयोग
3 गर्मियों में ये चार चीजें खाने से फिट रहने में मिलेगी बड़ी मदद
राशिफल
X