ताज़ा खबर
 

लेबर पेन के दौरान नहीं खाना चाहतीं पेन किलर तो इन नेचुरल ऑयल्स से कीजिए मसाज, मिलेगा आराम

कई शोधों में इस बात का दावा है कि लेबर पेन में किया गया मसाज महिलाओं को तनाव, चिंता और पैर तथा पीठ के दर्द से भी निजात दिलाने में मददगार होता है।

दूसरी बार माँ बनने जा रही हैं तो आपको कुछ बातों का खास ध्यान रखना होता है।

गर्भावस्था के दौरान लेबर पेन को केवल गर्भवती महिला ही समझ सकती है। इस दौरान एपिडुरल सबसे सही और सेफ पेनकिलर होता है जो महिलाओं को लेबर पेन से आराम दिलाने में मदद करता है। लेकिन, दर्द से निजात पाने के लिए हर कोई इसी उपाय का इस्तेमाल नहीं करता। बहुत से लोग अन्य विकल्पों पर भी विचार करते हैं। मसलन, भारत में बहुत पुराने समय से पेट पर हल्का मसाज कर दर्द से निजात पाने का उपाय आजमाया जाता रहा है। कई शोधों में इस बात का दावा है कि लेबर पेन में किया गया मसाज महिलाओं को तनाव, चिंता और पैर तथा पीठ के दर्द से भी निजात दिलाने में मददगार होता है।

ऐसे में अगर आप गर्भवती हैं और वेजिनल डिलीवरी प्लान कर रही हैं, साथ ही आपको लेबर पेन का भी डर है और आप पेन किलर भी नहीं लेना चाहतीं तो आपके लिए मसाज बेहतर विकल्प है। इससे आपको काफी आराम मिलेगा। हां, अगर मसाज आपके घर का कोई सदस्य कर रहा है तो उसे सतर्क रहने की जरूरत है। पेट पर ज्यादा दबाव घातक हो सकता है। ऐसे में आराम से मसाज करने की जरूरत है। इसके लिए आप किसी मसाज विशेषज्ञ की भी मदद ले सकती हैं।

लेबर के दौरान मसाज के लिए ऐसे बनाएं तेल – इसके लिए आपको 10 मिली तिल का तेल, 14 बूंद क्लैरीसेज ऑयल, 5 बूंद गुलाब का तेल और 6 बूंद लैंग-लैंग तेल की जरूरत पड़ेगी। इन सभी सामग्री को आपस में मिलाकर पीठ और पेट पर मसाज करें। ध्यान रहे कि यह तेल केवल लेबर के दौरान पेट के मसाज के लिए है। इसके अलावा सिर्फ क्लैरीसेज ऑयल से भी मसाज किया जा सकता है। इसके लिए एक कटोरी गर्म पानी में 2 या 3 बूंद क्लैरीसेज ऑयल मिला लें। अब इसमें एक रुमाल डुबोकर पानी निचोड़ लें। रुमाल को पेट पर फैला लें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App