ताज़ा खबर
 

प्रेग्नेंसी में भी जाती हैं ऑफिस तो ऐसे रखें अपना डाइट प्लान, मां और बच्चा दोनों रहेंगे सेहतमंद

ऑफिस वाली महिलाओं के लिए प्रेग्नेंसी में डाइट प्लान क्या हो आज हम इसी के बारे में बात करने वाले हैं।

Author Published on: December 13, 2017 10:31 PM
प्रतीकात्मक चित्र

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं का खास ख्याल रखना जरूरी होता है। ऐसा इसलिए कि अब उनकी सेहत के साथ उनके बच्चे की सेहत भी जुड़ी होती है। ऐसे में जो महिलाएं ऑफिस में काम करती हैं उनके लिए चुनौती बढ़ जाती है। ऑफिस में तकरीबन 8-9 घंटे काम करने के बाद पूरे शरीर पर थकान हावी रहता है। इससे बचने के लिए उन्हें दिन भर कुछ न कुछ पोषक तत्व लेते रहना चाहिए। ऑफिस वाली महिलाओं के लिए प्रेग्नेंसी में डाइट प्लान क्या हो आज हम इसी के बारे में बात करने वाले हैं।

नाश्ता – प्रेग्नेंट वर्किंग वुमन को सुबह उठने पर सबसे पहले ग्रीन टी पीना चाहिए। यह आपको दिन भर तरोताजा रहने में मदद करती है। नहाने आदि का काम पूरा करने के बाद नाश्ते में रोटी, सब्जी और उबले अंडे का सेवन करें। ऑफिस में भूख लगने पर कुछ खाने के लिए साथ में फ्रूट्स, नट्स और छाछ साथ में रखें। लंच के लिए टिफिन ले जाना बिल्कुल न भूलें।

ऑफिस में – ऑफिस पहुंचने पर सबसे पहले पानी पीना चाहिए। प्रेग्नेंसी में खूब पानी पीना सही होता है। पानी पीने के बाद थोड़ी देर आराम करें और काम शुरू करने से पहले सेब, अनार या फिर केला खा लें। यह मां और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद है।

लंच में – लंच में आप सब्जी रोटी, छाछ और जो कुछ भी आपके टिफिन में है उसे अच्छी तरह से चबाकर खाएं। आराम से खाना ही सही रहता है। किसी तरह की जल्दबाजी न करें। खाने के साथ सलाद का सेवन जरूर करें।

शाम का नाश्ता – ऑफिस में अक्सर शाम के नाश्ते के रूप में समोसे, पकौड़े आदि खा लेने की परंपरा है लेकिन आप इससे दूर रहें। आप अपने साथ जो नट्स आदि लेकर आई हैं उसका ही सेवन करें। चाय-कॉफी भी पिया जा सकता है।

डिनर में – डिनर में स्वास्थ्यवर्द्धक खाना खाएं। दाल का सेवन दिन भर में एक बार जरूर करें। डिनर में आप रोटी, सलाद तथा सब्जी में ब्रोकली, पनीर और बेबीकॉर्न खा सकती हैं। रात का खाना खाने के तुरंत बाद न सो जाएं बल्कि थोड़ा टहलें। प्रेग्नेंसी के दौरान दूध आपके लिए बेहद जरूरी है। इसलिए सोने से पहले एक गिलास दूध जरूर पिएं।


Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 संबंध बनाने, व्यायाम या तनाव की वजह से नहीं होता गर्भपात, गलत हैं अबॉर्शन से जुड़े ये मिथक
2 प्रेग्नेंसीः नॉर्मल डिलीवरी चाहिए तो प्रेग्नेंसी में फॉलो करें ये आसान से टिप्स
3 डिलीवरी के बाद कितने दिनों तक नहीं बनाना चाहिए शारीरिक संबंध? यहां जानिए जवाब