ताज़ा खबर
 

प्रेग्नेंसीः देखने में दिक्कत और बार-बार प्यास लगने सहित ये 6 लक्षण आपके लिए हो सकते हैं ‘घातक’, कभी मत करें इग्नोर

प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ ऐसे भी लक्षण होते हैं जिन्हें इग्नोर करना आपको भारी पड़ सकता है।

प्रतीकात्मक चित्र

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को कई तरह के शारीरिक और मानसिक बदलावों के दौर से गुजरना पड़ता है। उनके भीतर एक जीवित अस्तित्व जन्म लेने के लिए तैयार हो रहा होता है। ऐसे में उन्हें अपनी सेहत के प्रति ज्यादा संवेदनशील रहने की जरूरत है। ऐसे दौर में आपकी सेहत आपके बच्चे की सेहत को भी प्रभावित कर सकती है। प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ लक्षण ऐसे होते हैं जो सामान्य होते हैं। यह आपको और आपके बच्चे को कोई नुकसान नहीं पहुंचाते लेकिन इसी दौरान कुछ ऐसे भी लक्षण होते हैं जिन्हें इग्नोर करना आपको भारी पड़ सकता है। ये आपकी सेहत के साथ-साथ आपके बच्चे की सेहत को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं। ऐसे लक्षणों को पहचानना बेहद जरूरी है। आज हम आपको ऐसे ही कुछ लक्षणों के बारे में बताने वाले हैं।

पेट के बीच में या ऊपर दर्द – प्रेग्नेंसी के दौरान कभी-कभी पेट के बीच में या ऊपरी हिस्से में दर्द के साथ उल्टी या मितली की भी समस्या हो सकती है। ज्यादातर बार यह सीने में जलन, एसिडिटी, अपच या फिर फूड प्वॉइजनिंग की वजह से होती है, लेकिन हमेशा इसके यही कारण हों ये जरूरी नहीं। यह प्रीक्लैंप्सिया की वजह से भी हो सकता है। ऐसे में इन लक्षणों के दिखाई पड़ते ही आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

बुखार – प्रेग्नेंसी के दौरान अगर आपको सौ डिग्री सेल्सियस से ज्यादा का बुखार है और इसके साथ सर्दी के कोई लक्षण दिखाई नहीं दे रहे तो आपको तुरंत डॉक्टर से मिलने की जरूरत है। शरीर का ज्यादा तापमान आपके बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है।

देखने में समस्या – अगर आपको देखने में परेशानी हो रही हो, आंखों के सामने धुंधलापन छा रहा हो या बहुत ही कम दिखाई दे रहा हो तो डॉक्टर से जरूर बात करें। देखने में परेशानी प्रीक्लैंप्सिया के लक्षण हो सकते हैं।

सरदर्द – प्रेग्नेंसी के दौरान यूं तो सरदर्द एक आम समस्या है लेकिन अगर आपको सिर में असहनीय दर्द हो और इसके साथ प्रीक्लैंप्सिया का कोई लक्षण दिखाई दे तो आपको इसे गंभीरता से लेने की जरूरत है।

बार-बार प्यास लगना – प्रेग्नेंसी के दौरान आपको आपकी यूरीन और प्यास पर बारीकी से ध्यान देना चाहिए। अगर आपके यूरीन का रंग गाढ़ा पीला है और आपको बार-बार प्यास लगती हो तो इसका मतलब है कि आपको डिहाइड्रेशन की समस्या है। अगर आपको बार-बार पेशाब लगने के साथ-साथ प्यास भी लगती है तो इसका मतलब है कि आप गर्भावधि मधुमेह से पीड़ित हैं। यह दोनो स्थितियां आपके बच्चे की सेहत को प्रभावित करती हैं।

पेशाब के दौरान दर्द और जलन – पेशाब में जलन अक्सर यूरीन इन्फेक्शन की वजह से होता है। अगर आपके साथ भी ऐसा है तो आपको एंटी-बायोटिक्स लेने की जरूरत है।


Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App