ताज़ा खबर
 

प्रेग्नेंसी में रखना चाहती हैं नवरात्र व्रत तो इन बातों का जरूर रखें ध्यान

गर्भवती महिलाओं को व्रत के दौरान खास देखभाल की जरूरत होती है। यह मां और बच्चे दोनों के लिए जरूरी होता है।

प्रतीकात्मक चित्र

शारदीय नवरात्र शुरू हो चुका है। आश्विन महीने के शुक्ल पक्ष के साथ शुरू होने वाले इस त्योहार में श्रद्धालु 9 दिनों का व्रत रखते हैं। बहुत सी गर्भवती महिलाएं भी नवरात्र व्रत रखती हैं। गर्भवती महिलाओं को व्रत के दौरान खास देखभाल की जरूरत होती है। यह मां और बच्चे दोनों के लिए जरूरी होता है। आज हम आपको बताने वाले हैं कि गर्भावस्था में व्रत रखने के दौरान आपको क्या-क्या सावधानी बरतनी चाहिए।

1. फलों के जूस – अपने शरीर को हमेशा हाइड्रेटेड रखने की कोशिश कीजिए। इसके लिए पानी के साथ-साथ ताजे फलों के जूस का सहारा लिया जा सकता है। इससे शरीर को आवश्यक पोषक तत्व भी मिलते हैं। नारियल पानी, बटरमिल्क, मिल्क शेक या दूध आदि विकल्प इस्तेमाल किए जा सकते हैं।

2. कुछ न कुछ खाती रहें – किसी भी अवस्था में खाने की चीजों से पूरी तरह से नाता मत तोड़ लीजिए। अपनी डाइट में ताजे फलों, किण्वित सब्जियों, दही या रायता को शामिल करें।

3. पौष्टिक चीजों का सेवन – केवल पेट भरने के लिए कुछ भी न खा लीजिए। कोशिश कीजिए कि पोषक तत्वों से भरपूर चीजों का सेवन करें। थोड़ा-थोड़ा खाइए लेकिन थोड़ी-थोड़ी देर पर कुछ न कुछ खाते रहिए।

4. खीरा और शकरकरंद – खीरा तमाम आवश्यक खनिजों और पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसके अलावा शकरकंद भी आयरन, बीटा कैरोटिन और फाइबर का बेहतरीन स्रोत है। इन चीजों का सेवन प्रेग्नेंसी में व्रत के दौरान करना स्वास्थ्यप्रद होता है।

5. नमक खाती रहें – किसी भी हालत में नमक का सेवन बंद मत कीजिए। व्रत में सेंधा नमक का सेवन किया जाता है। आप उसे खा सकती हैं। नमक न खाने की वजह से थकान और कमजोरी की दिक्कत आ सकती है।

6. थकान न करें इग्नोर – किसी भी तरह के थकान या कमजोरी के लक्षणों को इग्नोर मत कीजिए। ध्यान रखें, आपकी और आपके बच्चे की सेहत आपकी प्राथमिकता होनी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App