ताज़ा खबर
 

बरसात के मौसम में अपने नवजात का यूं रखें ख्याल, दूर ही रहेंगी बीमारियां

बरसात के मौसम में ज्यादातर मांएं अपने नवजात बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित रहती हैं। उनकी चिंता सही भी है। बरसाती मौसम में हवा में नमी की वजह से रोगाणुओं के संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है।

बरसात के मौसम में बच्चे को मच्छरों और कीटों से बचाकर रखें।

बरसात के मौसम में ज्यादातर मांएं अपने नवजात बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित रहती हैं। उनकी चिंता सही भी है। बरसाती मौसम में हवा में नमी की वजह से रोगाणुओं के संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है। इसके अलावा बरसात में मच्छरों से पैदा होने वाली बीमारियां का भी प्रकोप काफी ज्यादा होता है। डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया जैसी बीमारियां हर साल अनेक लोगों के लिए जानलेवा साबित हो जाती हैं। ऐसे मौसम में नवजात शिशुओं को इन बीमारियों से बचाकर रखना उनके पैरेंट्स की जिम्मेदारी होती है। आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स के बारे में बताने वाले हैं जिनकी मदद से आप अपने शिशुओं को मॉनसून की खतरनाक बीमारियों से बचा सकती हैं। आइए, जानते हैं कि वे टिप्स क्या हैं –

1. बच्चे को साफ-सुथरा रखें – आमतौर पर बच्चों को बारिश के नम मौसम में बहुत पसीना आता है। ऐसे में बैक्टीरियल संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। इससे बचने के लिए जरूरी है कि नियमित अंतराल पर कपड़ों से उनका पसीना पोछती रहें। इसके अलावा उन्हें हर दिन नहलाना भी जरूरी है। जर्म्स से बचाने के लिए उन्हें एंटी-सेप्टिक साबुन से नहलाएं।

2. अच्छे से कपड़े पहनाएं – बरसात के मौसम में जब तक बारिश हो तब तक मौसम ठंडा बना रहता है। जब बारिश नहीं होती तब गर्मी लगती है। ऐसे में ख्याल रखें कि गर्मी के वक्त बच्चों को ढीले कपड़े पहनाकर रखें। इसके अलावा जब मौसम ठंडा हो जाए तो उन्हें गर्म कपड़े पहनाएं।

3. स्वस्थ भोजन और पानी – बरसात के मौसम में पानी की वजह से होने वाली बीमारियां बढ़ जाती हैं। इस मौसम में पानी प्रदूषित होता है जिसकी वजह से बीमारियां होती हैं। ऐसे में बच्चें को पानी उबालकर पिलाएं। अगर आपका बच्चा फॉर्मूला मिल्क का सेवन करता है तो इसे उबले पानी से ही तैयार करें। किसी भी खाने को बिना ढंके न रखें। बच्चों की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए जरूरी है कि उन्हें लगातार स्तनपान कराते रहें।

4. कीट-मच्छरों से दूर रखें – बरसात के मौसम में बच्चे को मच्छरों और कीटों से बचाकर रखें। इसके लिए उन्हें पूरी बांह के कपड़े पहनाकर रखें। इसके अलावा उनके कमरे में मॉस्कीटो रिपेलेंट का इस्तेमाल करें। आप मच्छर भगाने वाले क्रीम्स का भी इस्तेमाल कर सकती हैं लेकिन इसके लिए डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

5. दवाएं तैयार रखें – घर में सर्दी या फ्लू की सामान्य दवाइयां जरूर रखें। यह तब काम आएंगी जब डॉक्टर्स से संपर्क मुश्किल होगा या वो उपलब्ध नहीं रहेंगे। हां, इनके डोज के बारे में डॉक्टर से पहले ही परामर्श जरूर लें।

https://www.jansatta.com/lifestyle/weight-loss-gain-hindi/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App