ताज़ा खबर
 

प्रेग्नेंसी में बैंगन खाना हो सकता है नुकसानदायक, भूलकर भी ना करें डाइट में शामिल

Avoid Brinjal During Pregnancy: बैंगन खाना प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए बेहद नुकसानदायक साबित हो सकता है। ऐसे में आपको बैंगन खाने से बचने की कोशिश करनी चाहिए।

प्रेग्नेंसी में बैंगन खाना नुकसानदायक हो सकता है

Side effect of Brinjal: प्रेग्नेंसी के दौरान अपना ध्यान रखना बेहद जरूरी होता है। इस दौरान मां को अपने साथ-साथ अपने बच्चे का ध्यान रखने की भी जरूरत होती है। प्रेग्नेंसी के दौरान सबसे जरूरी सही लाइफस्टाइल और सही खान-पान की होती है। खाने से लेकर कोई भी लापरवाही आपके और बच्चे दोनों के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकती है। बैंगन खाना प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए बेहद नुकसानदायक साबित हो सकता है। ऐसे में आपको बैंगन खाने से बचने की कोशिश करनी चाहिए।

प्रेग्नेंसी में बैगन क्यों नहीं खाना चाहिए:
बैंगन में एसेंशियल मिनरल, विटामिन और बहुत से पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। पेट की समस्या, नींद ना आना और अपच जैसी समस्याओं के लिए बैंगन को फायदेमंद माना जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं प्रेग्नेंसी के दौरान बैंगन खाना हानिकारक साबित हो सकता है? आयुर्वेद के अनुसार प्रेग्नेंसी के दौरान बैंगन नहीं खाना चाहिए। बच्चे और मां दोनों के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।

एसिडिटी की समस्या हो जाती है:
प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाएं अधिक शारीरिक रूप से सक्रिय नहीं रहती हैं जिसके कारण उन्हें एसिडिटी और गैस की समस्या हो जाती है। यही कारण है कि बैंगन खाने से यह समस्या और बढ़ जाती है। बैंगन गैस और एसिडिटी को बढ़ाता है और अपच की समस्या का कारण भी बनता है।

पीरियड्स होने की संभावना बढ़ जाती है:
आयुर्वेद के अनुसार, प्रेग्नेंसी के दौरान बैंगन खाना नुकसानदायक होता है। बैंगन में फाइटोहार्मोन्स होते हैं जिसके कारण प्रेग्नेंसी के दौरान पीरियड्स होने की संभावना बढ़ जाती है। प्रेग्नेंसी के दौरान पीरियड्स होना बिल्कुल भी अच्छा नहीं माना जाता है। इसलिए प्रेग्रेंसी के दौरान बैंगन खाना बिल्कुल छोड़ दें।

अबॉर्शन हो सकता है:
बैंगन में एक ऐसा तत्व होता है जिससे अबॉर्शन होने की संभावनाएं बढ़ जाती है। साथ ही यह गर्भ में पल रहे बच्चे के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

(और Lifestyle News पढ़ें)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App