ताज़ा खबर
 

COVID-19 Precautions: कोरोना वायरस से बचने के लिए नई मां रखें इन बातों का ध्यान

COVID-19 Precautions: कोरोना महामारी के दौरान प्रेग्नेंट महिलाओं को अपना खास ध्यान रखने की जरूरत है। प्रेग्नेंट महिलाओं को भीड़भाड़ वाले इलाके में जाने से बचना चाहिए, साथ ही सामाजिक दूरी बनाई रखनी चाहिए। ध्यान रखने के लिए इन टिप्स को करें फॉलो-

COVID-19, coronavirus, COVID-19 Precautions, COVID-19 Precautions in Hindi, Coronavirus prevention for new mother, Pregnancy tips during coronavirus, covid-19 prevention measures ppt, covid-19 prevention and rescue, covid-19 prevention measures, covid-19 preventionप्रेग्नेंट महिलाएं कोरोना वायरस से बचने के लिए क्या करें

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए देश को लॉकडाउन कर दिया गया है। ऐसे में लोग ना घर से बाहर निकल पा रहे हैं और ना दोस्तों के साथ समय बिता पा रहे हैं। लॉकडाउन में ज्यादातर लोग कुकिंग, काम और किताबे पढ़कर समय बिता रहे हैं। इसी बीच UNICEF की एक रिपोर्ट सामने आई है और उसके अनुसार, आने वाले 9 महीनों में भारत में 2 करोड़ बच्चों का जन्म हो सकता है। इसका मतलब ये है कि आज के समय में बहुत सी महिलाएं प्रेग्नेंट हैं। ऐसे में डॉक्टरों के अनुसार, कोरोना महामारी के दौरान प्रेग्नेंट महिलाओं को अपना खास ध्यान रखने की जरूरत है। ध्यान रखने के लिए इन टिप्स को करें फॉलो-

1. डिलिवरी से पहले कोरोना टेस्ट जरूर करवाएं या कोरोना के कोई लक्षण दिखें को डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

2. डिलिवरी के दौरान या फिर लेबर पेन होने पर मास्क जरूर पहनें। इस महामारी के बीच मास्क पहनना बेहद अनिवार्य है।

3. डिलिवरी के दौरान या उसे बाद बच्चे और मां के पास किसी को आने की अनुमति ना दी जाए। इससे संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है। अगर आए भी तो साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखें।

4. प्रेग्नेंट महिलाओं को भीड़भाड़ वाले इलाके में जाने से बचना चाहिए, साथ ही सामाजिक दूरी बनाई रखनी चाहिए। इसके अलावा मास्क पहनकर रखना भी बेहद जरूरी है और हाथ को साबुन या सैनिटाइजर से साफ रखना भी अनिवार्य है।

5. प्रेग्नेंसी के दौरान कोविड-19 के लक्षणों को करीब से मॉनीटर करते रहना चाहिए, वहीं वायरस के संक्रमण से खुद को हर हाल में बचाने की कोशिश करनी चाहिए। अगर प्रेग्नेंट महिलाएं जिस जगह पर हैं वहां कोरोना वायरस के मामले ज़्यादा हैं तो हर समय डॉक्टर से संपर्क में रहना चाहिए। कोई भी लक्षण दिखे तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

6. प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को हर जरूरी पोषक आहार को डाइट में शामिल करना चाहिए। अगर गर्भवती महिला कोरोना वायरस की मरीज़ हैं तो उन्हें आइसोलेशन में रहने की ज़रूरत पड़ेगी और जब तक वो पूरी तरह ठीक नहीं हो जाती है बच्चे को मां का दूध नहीं पिलाना है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 प्रेग्नेंसी के दौरान सर्दी-जुकाम से हैं परेशान, तो इन घरेलू उपचारों का करें इस्तेमाल
2 प्रेग्नेंसी के दौरान कमर दर्द से हैं परेशान, तो आजमाएं ये घरेलू उपचार
3 प्रेग्नेंसी के दौरान करें अंडा का सेवन, जानिए क्या हैं इनके फायदे
ये पढ़ा क्या?
X