ताज़ा खबर
 
  • राजस्थान

    Cong+ 94
    BJP+ 80
    RLM+ 0
    OTH+ 25
  • मध्य प्रदेश

    Cong+ 110
    BJP+ 108
    BSP+ 6
    OTH+ 6
  • छत्तीसगढ़

    Cong+ 64
    BJP+ 18
    JCC+ 8
    OTH+ 0
  • तेलांगना

    TRS-AIMIM+ 89
    TDP-Cong+ 22
    BJP+ 2
    OTH+ 6
  • मिजोरम

    MNF+ 29
    Cong+ 6
    BJP+ 1
    OTH+ 4

* Total Tally Reflects Leads + Wins

प्रेग्नेंसी के दौरान सीने में होता है दर्द? इस तरह से पा सकते हैं छुटकारा

प्रेग्नेंसी के दौरान छोटी सी दिकक्त भी बड़ी समस्या का कारण बन सकती है। इसलिए आपको अधिक सावधान रहने की जरुरत होती है।

Author नई दिल्ली | November 20, 2018 3:08 PM
प्रेग्नेंसी के दौरान सीने में दर्द अपाचन के कारण हो सकता है।

प्रेग्नेंसी के दौरान 9 महिने आपके लिए जितने उत्साह भरे होते हैं उतने ही मुश्किल भी होते हैं। गर्भावस्था के दौरान बेचैनी और असुविधा के साथ, सीने में दर्द होना भी एक आम समस्या है। यह आपको काफी असहज कर सकता है। ऐसे कई कारण हैं जो गर्भवती महिला को होने वाले सीने में दर्द का कारण हो सकते हैं। सीने में दर्द आमतौर पर जलन या एसिड रिफलक्स के कारण होता है। इसके अलावा आपको अधिक सावधानी बरतनी चाहिए ताकि आप अपना ख्याल रख सके। आइए जानते है कैसे इससे छुटकारा पा सकती हैं।

प्रेग्नेंसी के दौरान सीने में दर्द के कारण:

1. अपाचन के कारण होने वाली गैस, जलन और एसिड रिफल्कस के कारण साने में दर्द हो सकता है।
2. सीने में जलन के कारण भी सीने में दर्द होने लगता है।
3. गर्भावस्था के दौरान होने वाला तनाव मसल्स टेंशन का कारण बनता है जिससे सीने में दर्द हो सकता है।4.
4. गर्भावस्था के दौरान ब्रेस्ट्स का साइज बढ़ने लगता है जिससे मसल्स और सीने में दर्द हो सकता है।
5. गर्भावस्था से पहले अस्थमा की समस्या होने पर भी सीने में दर्द हो सकता है।
6. गंभीर स्थिति में अगर आप सीने में बायीं तरफ दर्द महसूस कर रही हैं तो यह हार्ट अटैक का कारण हन सकता है।
7. सीने में इंफेक्शन के कारण भी सीने में दर्द हो सकता है।

प्रेग्नेंसी के दौरान सीने में दर्द के उपचार:

1. गर्भावस्था के दौरान सीधे बैठे या खड़े हो ताकि आपकी मुद्रा सही रहे है इससे फेफड़ों में ऑक्सीजन का प्रवाह सही रहता है।
2. मैग्नीशियम, कैल्शियम, विटामिन और आयरन युक्त आहार खाएं।
3. चिकनाई या मसालेदार भोजन के सेवन से बचें और शराब और कैफीन के सेवन को बंद कर दें।
4. छोटे-छोटे अंतराल पर भोजन खाएं और तुरंत भोजन करने के बाद लेटे नहीं। थोड़ी देरल टहलें।
5. अंगों पर दबाव डालने से बचने के लिए बायीं ओर सोएं।
6. तनाव से छुटकारा पाने के लिए ध्यान और योग का अभ्यास करें।
7. एक गिलास हल्के गर्म पानी के साथ एक चम्मच शहद का सेवन करें।
8. अदरक की चाय का सेवन करें।
9. बादाम खाएं। ये आपको पाचन में मदद करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App