ताज़ा खबर
 

अगर आप एनेमिक हैं और कर रही हैं प्रेग्नेंसी प्लान तो इन बातों का रखना होगा ध्यान

विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के मुताबिक 58 प्रतिशत भारतीय महिलाएं एनीमिया से ग्रस्त हैं। इसके अलावा 20-40 प्रतिशत मैटरनल डेथ्स एनीमिया की वजह से होती हैं।

प्रतीकात्मक चित्र

विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के मुताबिक 58 प्रतिशत भारतीय महिलाएं एनीमिया से ग्रस्त हैं। इसके अलावा 20-40 प्रतिशत मैटरनल डेथ्स एनीमिया की वजह से होती हैं। दक्षिण एशिया में एनीमिया से मरने वाली गर्भवती महिलाओं में 80 फीसदी भारत से हैं। यह आंकड़े एनीमिया की भयावहता बताने के लिए काफी हैं। ऐसे में गर्भावस्था में एनीमिया के उपचार से बेहतर है कि इसे होने ही न दिया जाए। इसके लिए जरूरी है कि प्रेग्नेंसी से पहले आप अपने खून की जांच जरूर कराएं ताकि एनीमिया से लड़ने में आसानी हो। इस दौरान अगर आपको पता लगे की आप एनेमिक हैं या फिर आपके खून में हिमोग्लोबिन की कमी है तो आपको ये बातें जरूर ध्यान में रखना चाहिए।

1. डॉक्टर से बात करके आयरन वाले सप्लीमेंट्स लेना शुरू करें जिससे खून में हिमोग्लोबिन लेवल दुरुस्त रहने में मदद मिलती है। यह आपको जल्दी कंसीव करने में भी मदद करता है। प्रेग्नेंसी से पहले शरीर में आयरन का स्तर सही करना इसलिए भी जरूरी है क्योंकि यह आपके बच्चे के सही विकास के लिए भी आवश्यक है।

2. शरीर में विटामिन सी का लेवल कम नहीं होने देना है। इसके लिए अतिरिक्त मात्रा में विटामिन सी लेना शुरू करें। साथ ही दिन भर में दो संतरों का सेवन करें। ताकि शरीर में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी बना रहे।

3. अपनी डाइट पर भी खास ध्यान दें। आयरन से भरपूर फूड्स का सेवन ज्यादा से ज्यादा करें। अगर आप प्रेग्नेंसी प्लान कर रही हैं तो पालक, ब्रोकली, मेथी और अन्य हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन शुरू करें। इससे हिमोग्लोबिन का स्तर भी दुरुस्त रहता है।

4. आयरन वाले सप्लीमेंट्स का सेवन करने तथा डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियों की मात्रा बढ़ाने के बाद खून की जांच करवाने जाती रहें। इससे शरीर में हिमोग्लोबिन के स्तर का पता चलता रहेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App