ताज़ा खबर
 

सभी पोषक तत्व पाने के लिए प्रेग्नेंसी के दौरान खाएं ये फूड आइटम, जानिए क्या हैं फायदे

Diet for Pregnant Lady's: फिटनेस एंड हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि गर्भवती महिलाएं जो खाती हैं, उसका सीधा असर उनके गर्भ में पल रहे बच्चे पर पड़ता है।

pregnancy food, pregnancy diet, pregnantप्रेग्नेंसी के दौरान डाइट का ख्याल रखना चाहिए।

Pregnancy Diet: प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को डाइट का खास ख्याल रखने की सलाह दी जाती है। फिटनेस एंड हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि गर्भवती महिलाएं जो खाती हैं, उसका सीधा असर उनके गर्भ में पल रहे बच्चे पर पड़ता है। इसलिए डॉक्टर भी यह सलाह देते हैं कि गर्भवती महिलाओं की डाइट में सभी पोषक तत्वों को शामिल किया जाना चाहिए। ताकि होने वाली मां के साथ ही बच्चे के स्वास्थ्य का भी ख्याल रखा जा सके। कहते हैं कि प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ फूड आइटम्स को जरूर डाइट में शामिल करना चाहिए।

रोजाना खाएं संतरा – प्रेग्नेंट महिलाओं को रोजाना संतरा खाना चाहिए। डायटिशियन का कहना है कि संतरा खाने से शरीर में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी जाता है। विटामिन सी की मदद से इंफेक्शन से बचा जा सकता है। साथ ही इसका रोजाना सेवन करने से स्किन की चमक बढ़ती है। बताया जाता है कि संतरे का सेवन करने से बच्चे की त्वचा में भी सकारात्मक बदलाव लाए जा सकते हैं। इससे बच्चे को स्किन इंफेक्शन होने का खतरा भी कम हो जाता है।

मूली का सेवन है जरूरी – गर्भवती महिलाओं को मूली का सेवन जरूर करना चाहिए। जानकारों का मानना है कि प्रेग्नेंसी के दौरान मूली का सेवन करने से गर्भ में पल रहा बच्चा पीलिया की बीमारी से बच सकता है। कई नवजात शिशुओं जन्म के साथ ही पीलिया की चपेट में आ जाते हैं, इससे बचने के लिए मूली का सेवन फायदेमंद माना जाता है। कहते हैं कि इससे बच्चे और होने वाली मां दोनों का पाचन तंत्र भली प्रकार से काम करता है।

फायदेमंद है प्याज – एक्सपर्ट्स का मानना है कि प्याज में पर्याप्त मात्रा में पानी होता है, जिससे शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा बनी रहती है और शरीर में उचित मात्रा में पानी रह पाता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को उचित मात्रा में कच्चा प्याज अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। इससे बच्चे के शरीर में पानी की कमी नहीं रहती है।

गुड़ है लाभकारी – प्रेग्नेंट महिलाओं को प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही के बाद गुड़ का सेवन करना शुरू कर देना चाहिए। इससे गर्भवती महिलाओं के शरीर में पर्याप्त मात्रा में हीमोग्लोबिन बनता है, जिससे होने वाली मां और बच्चे के शरीर में खून की कमी नहीं रहती है।

Next Stories
1 सर्दियों में चमकदार त्वचा पाने के लिए इन घरेलू उपायों को माना जाता है कारगर, जानिए इस्तेमाल का तरीका
2 इटली के गांव की लड़की सोनिया कैसे बनीं भारत की बहू, जानिए कब और कैसे हुई राजीव और सोनिया की मुलाकात
3 सर्दियों में स्किन डैमेज होने से बचाता है बादाम का तेल, जानें दूसरे फायदे
ये पढ़ा क्या?
X