मौसम बदलते ही ऑयली स्किन से आ गए हैं तंग, तो भूल से भी न अपनाएं ये ब्यूटी प्रोडक्ट्स

Oily Skin Remedies: ऑयली स्किन वाले लोगों को ब्यूटी प्रोडक्ट्स खरीदते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि उनमे कुछ विशेष सामग्री ना हों। ये आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचा सकती हैं।

skin care, Skin Care Tips, skin care routine, tips for glowing skin, diet tips for healthy skin
कई अध्ययनों में अध्ययनकर्ताओं ने ये बात कही है कि शरीर में कोलेजन की मौजूदगी से चेहरे पर निखार आता है

Skincare Tips: अगर आपकी स्किन ऑयली है, तो आपके लिए किसी भी तरह की मेकअप किट रखने का कोई फायदा नहीं है। लेकिन अगर आप अपने स्किन टाइप के अनुसार मेकअप प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें, तो आपकी स्किन हेल्दी और ग्लोइंग बनी रहती है। हाल ही में होमग्रोन स्किनकेयर ब्रांड के को-फाउंडर शांतल मजूमदार ने, कुछ ऐसे विषैले तत्वों को साझा किया हैं, जो ऑयली स्किन वाले लोगों के मेकअप प्रोडक्ट्स में नहीं होने चाहिए।

ओलेक एसिड वाले प्रोडक्ट्स को कहें ना: अक्सर ऑयली स्किन वाली महिलाएं मेकअप प्रोडक्ट्स खरीदते समय ऐसे प्रोडक्ट्स देखती हैं जिनमें ऑयली तत्व ना हो। लेकिन लोगों को ये समझना चाहिए कि तेल वाले प्रोडक्ट्स हमारे स्किन के छेदों को बंद नहीं करते।

इस बात को लेकर शांतनु मजूमदार कहते हैं, “ऑयली स्किन वाली महिलाओं को केवल उन प्रोडक्ट्स से दूर रहना चाहिए, जिसमें ज्यादा ओलेक एसिड होते हैं, जैसे- नारियल, कैमिलिया और हेजलनट तेल, यह त्वचा के छिद्रों पर बैठ जाते हैं और इससे छेद बंद हो जाते हैं। इनके अलावा ऐसे प्रोडक्ट्स को खरीदना चाहिए, जिनमें लिनोलेनिक अम्ल ज्यादा होते हैं। जैसे- गुलाब का तेल।”

विशिष्ट एमोलिएंट को कहें ना: सूखी त्वचा के लिए विशिष्ट एमोलिएंट बहुत अच्छा काम करते हैं लेकिन ऑयली स्किन वालों के लिए यह कोई मदद नहीं करते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि ये स्वभाव से चिकने होते हैं। इनका इस्तेमाल करने से भारी और चिपचिपा भी महसूस होता है।

अल्कोहल से बनें प्रोडक्ट्स का ना करें इस्तेमाल: यही केवल ऐसा प्रोडक्ट है, जिसे हर स्किन टाइप के लोगों को इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। यह आपके छिद्रों में तेल को बढ़ाता है। बता दें, अल्कोहल ज्यादातर टोनर्स में पाया जाता है और यदि आप CTM रूटीन का सख्ती से पालन करना चाह रहे हैं, तो मजूमदार कहती हैं कि छिद्रों और त्वचा को ठीक करने में मदद करने के लिए एलोवेरा या शुद्ध गुलाब टोनर का इस्तेमाल करें।

सोडियम क्लोराइड को कहें ना: ज्यादातर साबुनों में सोडियम क्लोराइड का इस्तेमाल होता है। हालांकि, यूं तो ये हमारे लिए नुकसानदेह नहीं होते, लेकिन ये हमारे चेहरे की त्वचा को काफी नुकसान पहुंचा सकते हैं। ऐसी साबुनों को इस्तेमाल जब ऑयली स्किन वाले करते हैं, तो उनकी त्वचा के छेद बंद हो जाते हैं, जिससे चेहरे पर पिंपल्स हो जाते हैं।

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट