न्यूयॉर्क टाइम्स ने बताया- फर्जी है हमारे हवाले से मोदी को दुनिया की आखिरी उम्मीद बताने वाली वायरल फ़ोटो

‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ ने एक बयान जारी कर कहा है कि उनके नाम से प्रसारित की जा रही ‘नरेंद्र मोदी को दुनिया की आखिरी उम्मीद’ बताने वाली खबर फेक है। अब इस पर यूजर्स की अलग-अलग प्रतिक्रिया आ रही है।

Viral Image, Fake Post, Twitter
वायरल हो रही तस्वीर को न्यूयॉर्क टाइम्स ने बताया फेक (प्रतीकात्मक तस्वीर/Indian Express)

‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ ने एक बयान जारी कर कहा है कि उनके नाम से प्रसारित की जा रही ‘नरेंद्र मोदी को दुनिया की आखिरी उम्मीद’ बताने वाली खबर फेक है। संस्था ने अपने आधिकारिक टि्वटर हैंडल पर पीएम मोदी की तस्वीर के साथ साझा की जा रही फेक खबर को शेयर किया और लिखा, ‘यह उन तमाम मनगढ़ंत तस्वीरों और खबरों में से एक है, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी का जिक्र करते हुए न्यूयॉर्क टाइम्स के नाम से प्रसारित किया जा रहा है।’ संस्था ने एक लिंक साझा करते हुए आगे लिखा कि ‘नरेंद्र मोदी से संबंधित हमारी सभी तथ्यात्मक खबरों को इस लिंक पर देखा जा सकता है।’

न्यूयॉर्क टाइम्स के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर लोग तमाम तरह की टिप्पणी कर रहे हैं। वरिष्ठ पत्रकार अजीत अंजुम ने लिखा, ‘मोदी भक्तों के फर्जीवाड़े और फोटो शॉप का डंका दुनियाभर में बज रहा है। पत्रकार राणा अय्यूब ने लिखा, ‘कितनी शर्मिंदगी की बात है कि न्यूयॉर्क टाइम्स को क्लारिफिकेशन जारी करना पड़ा। और कुछ नहीं तो हमारे नेताओं की फोटो शॉप स्किल ही अंतरराष्ट्रीय खबर बन रही है’।

उधर, पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने लिखा, ‘प्रेसिडेंट बाइडेन ने अपने 9 महीने के कार्यकाल में 140 बार प्रेस के सवालों का जवाब दिया, लेकिन 7 वर्षों में पीएम मोदी ने कितनी बार दिया? आपको पता है? यहां तक कि अमेरिका के प्रेसिडेंट को प्रेस से सवाल न देने की सलाह भी दे डाली।’

लेखक और प्रोफेसर संजय मिश्रा ने लिखा, ‘न्यूयार्क टाइम्स के फ्रंट पेज की फर्जी खबर के जरिए पीएम मोदी की बड़ाई करते हुए यह तस्वीर सोशल मीडिया पर साझा की जा रही थी। अंतत: न्यूयॉर्क टाइम्स को मजबूरन खंडन छापना पड़ा।’

लेखक उर्विश कोठारी ने इस फर्जी खबर की तस्वीर साझा करते हुए टिप्पणी की, ‘यह फोटो तो गांधीजी के साबरमती आश्रम की है। पीछे हृदय कुंज साफ दिख रहा है। हो सकता है साहब आश्रम को भी अमेरिका साथ ले गए हों… गांधी जी इतने प्रिय जो हैं।’

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट