Muharram 2019 Qawwali, Quotes, SMS : मुहर्रम के मौके पर वायरल हो रहा है ये कव्वाली वीडियो

Muharram 2019 shayari, qawwali, quotes, Images, messages, Status, SMS, Photos: इस मुहर्रम आप यूट्यूब पर बेहतरीन और ट्रेंडिंग कव्वाली सुन सकते हैं। इसके अलावा मैसेज और कोट्स के जरिए अपनों को मुहर्रम मनाएं जानें के पीछे का कारण भी बता सकते हैं।

muharram 2019, muharram, muharram 2019 qawwali, muharram qawwali, Moharram, muharram 2019 wishes, muharram 2019 wishes images, muharram 2019 wallpaper hd, muharram 2019 wallpaper, muharram 2019 which date, muharram 2019 whatsapp status, muharram 2019 photos, muharram 2019 pictures, muharram shayariMuharram 2019 Qawwali: अपनों को भेजें इस मौके पर मैसेज और कोट्स

Muharram 2019 best trending qawwali, quotes, sms, messages, status: मुहर्रम को इस्लामिक कैलेंडर का पहला महीना माना जाता है। इस्लाम धर्म में पवित्र महीनों में एक माना जाता है। बता दें कि मुहर्रम (Moharram) शब्द निषिद्ध शब्द ‘हराम’ से लिया गया है। मुहर्रम के 10वें दिन को आशुरा कहा जाता है। इसी दिन को अंग्रेजी कैलेंडर में मुहर्रम कहा गया है। बता दें कि मुहर्रम इस्लामी वर्ष यानी हिजरी सन का पहला महीना कहलाता है। कर्बला की लड़ाई में इमाम हुसैन की शहादत के बाद लोगों ने इसे नए साल के रूप में मनाना छोड़ दिया और बाद में यह गम व दुख के महीने के रूप में बदल गया। माना जाता है कि इस दौरान रखे गए हर रोजे का सवाब 30 रोजों के बराबर होता है।

इस मुहर्रम यूट्यूब पर आप देख सकते हैं बेहतरीन कव्वाली… यहां मिलेंगे वो कव्वाली जो यूट्यूब पर ट्रेंड कर रहे हैं-

इसके अलावा इस मुहर्रम के खास मौके पर आप जानिए इसे मनाएं जाने के पीछे का कारण और कुछ खास शायरी जिसे आप अपने दोस्तों को भेज सकते हैं-

1. कत्‍ल-ए-हुसैन असल में मार्ग-ए-यजीद है
इस्‍लाम ज़‍िंदा होता है हर करबला के बाद

2. जब भी कभी ज़मीर का सौदा हो
कायम रहो दोस्‍तों हुसैन के इंकार की तरह

3. न हिला पाया वो रब की मेहर को
भले जीत गया वो कायर जंग
पर जो मौला के दर पर शहीद हुआ
वही था असली और सच्‍चा पैगम्‍बर

4. न हिला पाया वो रब की मेहर को
भले जीत गया वो कायर जंग
पर जो मौला के दर पर शहीद हुआ
वही था असली और सच्‍चा पैगम्‍बर

5. जन्‍नत की आरज़ू में
कहां जा रहे हैं लोग
जन्‍नत तो करबला में
खरीदी हुसैन ने
दुनिया-ओ-आखरात में
जो रहना हो चैन से
जीना अली से सीखो
मरना हुसैन से

6. नज़र गम है नज़रों को बड़ी तकलीफ होती है
बगैर उनके नज़रों को बड़ी तकलीफ होती है
नबी कहते थे अकसर के अकसर ज़‍िक्र-ए-हैदर से
मेरे कुछ जान निसारों को बड़ी तकलीफ होती है

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सोनम कपूर ने साड़ी को दिया एक अलग और अनोखा लुक, बहन रिया ने किया डिजाइन
2 Muharram 2019 Quotes, Status, Images: कर्बला की शहादत इस्लाम बना गयी… मुहर्रम के दिन की खासियत लोगों को बताएं इन कोट्स के जरिए
3 Muharram 2019 Images, Quotes, Status: इमाम का हौसला इस्लाम जगा गया… मुहर्रम पर इन कोट्स के जरिए लोगों को बताएं इस दिन की खासियत
ये पढ़ा क्या...
X