scorecardresearch

विटामिन बी-2 की मदद से माइग्रेन के दर्द में मिल सकता है राहत; जानिए कौन-कौन से सप्लीमेंट हैं फायदेमंद

माइग्रेन की बीमारी अनुवांशिक होती है। लेकिन कई बार डिहाइड्रेशन, तनाव और आहार संबंधी कारक भी माइग्रेन का कारण बन सकते हैं।

विटामिन बी-2 की मदद से माइग्रेन के दर्द में मिल सकता है राहत; जानिए कौन-कौन से सप्लीमेंट हैं फायदेमंद
बार-बार होने वाला माइग्रेन स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है। (Image: Pixabay)

माइग्रेन एक ऐसी बीमारी है जिसमें सिरदर्द और चक्कर आना आम बात है। माइग्रेन एक न्यूरोलॉजिकल स्थिति है जिसमें व्यक्ति को सिर के एक या कभी-कभी दोनों हिस्सों में तेज दर्द का अनुभव होता है। ये दर्द कुछ घंटों या (कभी-कभी) कई दिनों तक रह सकता है। माइग्रेन की बीमारी अनुवांशिक होती है। लेकिन कई बार डिहाइड्रेशन, तनाव और खान- पान की आदतें) भी माइग्रेन का कारण बन सकता है।

बार-बार होने वाला माइग्रेन स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है। इस वजह से माइग्रेन के इलाज के लिए पूरक या प्राकृतिक उपचार (Complementary or Natural Remedies for Migraine) बहुत लोकप्रिय हो रहे हैं। विटामिन बी 2 और मेलाटोनिन जैसे पोषक तत्व माइग्रेन के हमलों को रोकने में बहुत प्रभावी होते हैं। आइए जानें कि कौन से विटामिन और मिनरल माइग्रेन से राहत दिला सकते हैं-

माइग्रेन क्या है ?

माइग्रेन एक प्रकार का गंभीर सिरदर्द है। यह घबराहट, उल्टी, या प्रकाश और शोर के प्रति संवेदनशीलता जैसे लक्षणों के साथ हो सकता है। माइग्रेन के दर्द में व्यक्ति को रोशनी और आवाज से चिढ़ सी हो जाती है। कई लोगों में यह दर्द सिर्फ सिर के एक तरफ ही महसूस होता है। माइग्रेन एक सामान्य अक्षम करने वाला मस्तिष्क से संबंधित बीमारी है।

विटामिन बी2

हेल्थलाइन के अनुसार, विटामिन बी2 शरीर में कई चयापचय प्रक्रियाओं में मदद करता है। यह विटामिन पानी में घुलनशील है और माइग्रेन के विकास को रोकने में बहुत प्रभावी है। विटामिन बी2 कोशिकाओं को ऊर्जा प्रदान करता है। अक्सर दिमाग की नसें सुस्त हो जाती हैं, जिससे माइग्रेन हो सकता है।

मैग्नीशियम

मैग्नीशियम तंत्रिका कार्य, रक्तचाप और मांसपेशियों के कार्य में प्रमुख भूमिका निभाता है। मैग्नीशियम की कमी से सिरदर्द और माइग्रेन हो सकता है। मैग्नीशियम की खुराक लेने से माइग्रेन के दर्द से राहत मिल सकती है।

विटामिन डी

शरीर में विटामिन डी की कमी से माइग्रेन का दौरा पड़ सकता है। विटामिन डी मस्तिष्क में सूजन से लड़ता है। इसके अलावा, विटामिन डी मैग्नीशियम के अवशोषण को बढ़ाता है और माइग्रेन के हमलों के दौरान वृद्धि कारकों के उत्पादन को कम करता है। विटामिन डी के नियमित सेवन से माइग्रेन से बचाव हो सकता है।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 25-09-2022 at 12:38:45 pm
अपडेट