X

आप भी अपने पार्टनर के बारे में रखती हैं ऐसी सोच? बेकार हो सकती है आपकी लव-लाइफ

रिलेशनशिप में होने पर आप एक-दूसरे से पूरी ईमानदारी की उम्मीद करते हैं। ऐसे में आपके मन में अपने पार्टनर को लेकर कई तरह के सवाल या आशंकाएं आती रहती हैं।

रिलेशनशिप में होने पर आप एक-दूसरे से पूरी इमानदारी की उम्मीद करते हैं। ऐसे में आपके मन में अपने पार्टनर को लेकर कई तरह के सवाल या आशंकाएं आती रहती हैं। इनमें बहुत से ऐसे निगेटिव थॉट्स होते हैं जिनकी सच्चाई संदिग्ध होती है लेकिन आप इसे सच मानकर अपनी रिलेशनशिप को खतरे में डाल लेते हैं। आपको इन थॉट्स को पहचानकर इनसे बचना चाहिए। आज हम आपको इसी से जुड़ी कुछ बातें बताने वाले हैं। आइए जानते हैं –

मेरा इस्तेमाल करता है – अगर आपका पार्टनर चाहता है कि आप उसके लिए पर्सनली या प्रोफेशनली कुछ करें और आपको लगता है कि वह आपके नेटवर्किंग स्किल्स और अन्य क्वालिटीज का इस्तेमाल कर रहा है, तो ऐसे में बिना सोचे-समझे किसी नतीजे पर न पहुंचे। यह आपका स्वार्थीपन या फिर अहंकार भी हो सकता है।

मुझे नीचा दिखाता है – अगर आपका पार्टनर आपकी किसी बात पर आलोचना करता है और आप सोचती हैं कि वह आपको हमेशा नीचा दिखाने के लिए ऐसा करता है, तब भी आपको संभलने की जरूरत है। रिलेशनशिप में आप हर प्वाइंट पर बहस करने के लिए स्वतंत्र होते हैं और आपको एक-दूसरे की आलोचना भी करना चाहिए। आपकी किसी भी गलती की तरफ इशारा करने का मतलब यह कतई नहीं होता कि आपके पार्टनर का इंटेंशन आपको अपमानित करना है।

मुझे धोखा दे रहा है – रिलेशनशिप में नकारात्मक विचारों की लिस्ट में यह सबसे ऊपर है। अगर आप उसकी हर छोटी-छोटी चीजों पर शक करने लगती हैं तो इसका मतलब है कि आपके रिश्तों में कुछ दिक्कत आने वाली है। इसके अलावा वह किसी लड़की से बात करता है और आप उसके बारे में गलत सोचना शुरू कर देती हैं तो यह भी आपके रिश्ते के लिए सही नहीं है।

महिलाओं की तरफदारी करता है – बहुत सी महिलाएं अपने पार्टनर के कमेंट्स और उसके ऑब्जर्वेशन्स की भी चीर-फाड़ करने लगती हैं। वह यह पता लगाना चाहती हैं कि उनका पार्टनर लड़कियों को लेकर बायस्ड तो नहीं है। हेल्दी रिलेशनशिप के लिए ऐसा सोचना भी सही नहीं है।

उसे मुझे समझना चाहिए – बहुत सी लड़कियां ऐसा सोचती हैं कि मैं क्या सोचती हूं या महसूस करती हूं वह सब कुछ उसके पार्टनर को बिना बताए समझ जाना चाहिए। लेकिन कोई भी माइंड रीडर नहीं होता। इसलिए किसी से ऐसी उम्मीद नहीं ही करना चाहिए। रिलेशनशिप में टू-वे कम्यूनिकेशन की कोशिश करनी चाहिए।

 

Outbrain
Show comments