ताज़ा खबर
 

रिश्तों में असुरक्षा की भावना बढ़ रही है? ये पांच टिप्स बचा सकते हैं आपकी रिलेशनशिप

रिलेशनशिप में अक्सर पार्टनर्स के बीच नोंक-झोंक चलती रहती है। कई बार यह रिश्तों में अनसेफ फील करने का परिणाम होता है।

प्रतीकात्मक चित्र

रिलेशनशिप में अक्सर पार्टनर्स के बीच नोंक-झोंक चलती रहती है। कई बार यह रिश्तों में अनसेफ फील करने का परिणाम होता है। ईर्ष्या, अविश्वास जैसी चीजें रिश्तों की दुश्मन होती हैं। ऐसे में इनसे बचने की हर संभव कोशिश करना चाहिए। अगर आप रिलेशनशिप में हैं और इसे लेकर आपमें असुरक्षा का भाव है तो ये टिप्स आपके काम आ सकते हैं। रिलेशनशिप को बचाने के लिए आप इन टिप्स को एक बार जरूर आजमाएं।

भूल जाएं पुरानी बातें – अगर आप दूसरी बार रिलेशनशिप में हैं तो आपके लिए यह जरूरी हो जाता है कि पहले रिलेशनशिप के बारे में पूरी तरह से भूल जाएं। आपके मन नें डर होना स्वाभाविक है लेकिन आपके लिए यह समझना जरुरी होता है कि हर व्यक्ति एक जैसा नहीं होता है। इसलिए अपने एक्स के साथ जुड़े बुरे अनुभवों से अपने रिलेशनशिप को प्रभावित ना होने दें और सब कुछ भूलकर आगे बढ़ें।

एक-दूसरे को अच्छे से जानें-पहचानें – रिश्तों में ईर्ष्या, शक और असुरक्षा की भावना विष का काम करती है। ऐसे में एक दूसरे को ठीक तरह से जान-पहचान लेना बहुत जरूरी होता है। अपने पार्टनर के सोशल सर्कल से आपकी जान-पहचान होने पर आपके मन में सुरक्षा का भाव आता है। साथ ही यह सवाल बार-बार पैदा नहीं होता कि वे कहां और किसके साथ हैं।

समस्या को ठीक से जानने की कोशिश करें – जब भी आपके मन में असुरक्षा की भावना पैदा होती हो तो पहले इस चीज को समझें कि कब आपके साथ ऐसा सबसे ज्यादा होता है। किसी विशेष परिस्थिति या किसी व्यक्ति विशेष की मौजूदगी में अगर आपको सबसे ज्यादा असुरक्षा और जलन की भावना महसूस होती है तो पहले खुद इसे समझें और फिर अपने पार्टनर से इस बारे में बात करें।

पार्टनर की जासूसी कभी न करें – अपने पार्टनर के सोशल मीडिया अकाउंट को चेक करना, छुपकर उसका फोन चेक करना और उनके मैसेज आदि पढ़ने की भूल कभी न करें। ऐसा करने से असुरक्षा की भावना कम हो या ना हो लेकिन आपके और आपके पार्टनर के बीच झगड़ा जरुर हो सकता है। इसलिए उनकी जासूसी ना करें।

पार्टनर पर करें भरोसा – रिलेशनशिप प्यार और भरोसे पर टिकी होती है। भरोसे की कमी के कारण ही असुरक्षा और जलन की भावना पैदा होती है। इसलिए अपने पार्टनर पर भरोसा करना सीखें। अपने पार्टनर पर भरोसा करने से आपके दिल में असुरक्षा की भावना खुद-ब-खुद कम हो जाती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App