ताज़ा खबर
 

जब पत्रकार बन आधी रात लालू यादव ने किया लाल कृष्ण आडवाणी को फोन, जानें क्या थी वजह

लालू प्रसाद यादव हर हाल में लाल कृष्णा आडवाणी के रथ को रोकना चाहते थे और उन्होंने अधिकारियों को पहले ही इसके आदेश दे दिए थे। लेकिन उन्होंने जानकारी लेने के लिए सर्किट हाउस में पत्रकार बनकर फोन किया था।

लालू प्रसाद यादव ने किया था आडवाणी को फोन (Photo- Indian Express)

राम मंदिर निर्माण की कवायद तेज हो गई है। शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस पर अहम समीक्षा बैठक की। इस बैठक में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के अलावा कई बड़े अधिकारी शामिल हुए थे। बीजेपी का राम मंदिर के लिए संघर्ष करीब 21 साल पहले शुरू हुआ था जब 1990 में लाल कृष्ण आडवाणी ने सोमनाथ मंदिर से ‘रथ यात्रा’ की शुरुआत की थी। इस बीच उन्हें बिहार में गिरफ्तार कर लिया गया था।

1990 में लालू प्रसाद यादव बिहार के मुख्यमंत्री बने ही थी और उन्होंने बड़े अफसरों को पहले ही आडवाणी को गिरफ्तार करने के आदेश दिए थे, लेकिन बड़े अधिकारियों ऐसा न करने की सलाह दी थी। अधिकारियों का कहना था कि इससे राज्य का माहौल बिगड़ सकता है। जबकि लालू अपनी बात पर अड़े हुए थे। उन्होंने तत्कालीन केंद्रीय गृह मंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद को भी इस बारे में पहले ही बता दिया था। लालू यादव ने अपनी आत्मकथा ‘गोपालगंज से रायसीना: मेरी राजनीतिक यात्रा’ में इस घटना का जिक्र किया है।

लालू ने पत्रकार बनकर किया फोन: उधर लाल कृष्ण आडवाणी बिहार में रथ यात्रा लेकर दाखिल हो चुके थे, लेकिन लालू प्रसाद यादव के दिमाग में कुछ और ही चल रहा था। वह हर हाल में आडवाणी के रथ को रोकना चाहते थे। लाल कृष्ण आडवाणी बिहार के समस्तीपुर स्थित सर्किट हाउस में रुके हुए थे। लालू ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि वह कहीं न जा पाएं। लालू को पता था कि लाल कृष्ण आडवाणी को गिरफ्तार कर हालात बिगड़ सकते हैं।

आडवाणी की गिरफ्तारी के बाद गिर गई थी वीपी सिंह सरकार: रात में लालू प्रसाद यादव ने दो बजे सर्किट हाउस में फोन किया। उन्होंने पत्रकार बनकर ये फोन किया। दरअसल वह जानना चाहते थे कि आडवाणी के साथ इस दौरान कौन-कौन मौजूद है। आडवाणी के सहयोगी ने लालू को बताया कि वह फिलहाल आराम कर रहे हैं और उनके समर्थक जा चुके हैं। लालू ने इस मौके को हाथ से जाने नहीं दिया और तुरंत आडवाणी को गिरफ्तार कर लिया गया। आडवाणी की गिरफ्तारी के बाद केंद्र की राजनीति पूरी तरह बदल गई। आडवाणी की गिरफ्तारी के बाद केंद्र की वीपी सिंह की सरकार गिर गई।

Next Stories
1 स्कूल में दोस्त को नहीं हरा पाए कुश्ती तो मंत्री बनने के बाद मुलायम सिंह यादव ने फिर दिया था चैलेंज, जानिए क्या थी वजह
2 बालों की लंबाई बढ़ाने के लिए घर में ही बनाएं चावल और मेथी वाला टॉनिक, जानें विधि
3 कभी 86 किलो की थीं प्रियंका चोपड़ा की बहन, परिणीति चोपड़ा ने ‘फैट से फिट’ बनने के लिए इस डाइट को किया फॉलो
ये पढ़ा क्या?
X