ताज़ा खबर
 

जान‍िए, प्रेग्‍नेंसी में क्‍या है सोने का सही तरीका

प्रेग्नेंसी में पेट का आकार और शरीर की संरचना में काफी बदलाव होता है, जिसकी वजह से अच्छी नींद नहीं ले पाती हैं। इसलिए महिलाओं को भरपूर नींद लेने की जरूरत होती है ताकि मां के शरीर पर कोई बुरा प्रभाव न पड़े और साथ ही बच्चे के विकास में भी कोई बाधा न आए।

pregnancy, pregnancy tips, health complication in pregnancy, kidney disease, kidney disease in pregnancy, child, pregnancy risk, High blood pressure, diabetes, Stomachache, Stomach pain labour, stoamch pain during pregnancy, stomach pain during pregnancy, causes of stomach pain during pregnancy, symptoms of stomach pain during pregnancy, problems associated with stomach pain during pregnancy, pregnancy complications, pregnancy problems, abortion, infection, health news in hindi, lifestyle news in hindi, jansattaप्रतीकात्मक चित्र

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को अपने स्वास्थ्य का खास ध्यान रखना होता है। क्योंकि प्रेग्नेंट महिला के स्वास्थ्य का सीधा असर शिशु के स्वास्थ्य पर पड़ता है। इसके अलावा प्रेग्नेंट महिलाओं को समय-समय पर रूटीन चेकअप कराना जरूरी होता है। वहीं प्रेग्नेंसी में पेट का आकार और शरीर की संरचना में काफी बदलाव होता है, जिसकी वजह से अच्छी नींद नहीं ले पाती हैं। इसलिए महिलाओं को भरपूर नींद लेने की जरूरत होती है ताकि मां के शरीर पर कोई बुरा प्रभाव न पड़े और साथ ही बच्चे के विकास में भी कोई बाधा न आए। लेकिन इन सब के बावजूद ऐसे भी कई बातें हैं जिन्हें प्रेग्नेंसी के दौरान दरकिनार कर दिया जाता है और जरूरी नहीं समझा जाता। जिसमें सोने का तरीके भी शामिल है। प्रेग्नेंसी के दौरान सोने के तरीकों में की गई छोटी सी भूल भी बड़ी समस्या का कारण बन सकती हैं। आइए आज हम आपको प्रेग्नेंसी के दौरान सोन के सही तरीकों बारे में बताते हैं।

पीठ के बल सोना : प्रेग्नेंट महिलाओं को पीठ के बल सोना खतरनाक हो सकता है, क्योंकि पीठ के बल सोने से पूरा दबाव बच्चे पर आ जाता है। इसके अलावा पीठ के बल सोने से गर्भाशय का पूरा वजन पीठ, आंतों और निचली कैवा शिरा पर पड़ता है, जिससे पीठ में दर्द, अपच, सांस लेने में परेशानी, बवासीर और बल्ड प्रेशर की समस्या उत्पन्न हो सकती है।

तकिए का इस्तेमाल : प्रेग्नेंसी के दौरान सोते समय तकिए के इस्तेमाल का भी ध्यान रखना जरूरी होता है। महिलाएं अधिक बड़े या छोटे तकियों का इस्तेमाल न करें। सोने के दौरान प्रेग्नेंट महिलाएं एक तकिया नितंबों के नीचे, पैरों के बीच में और एक पीठ के पीछे रखकर सो सकती हैं। इससे आरामदायक नींद भी मिलेगी और शिशु को भी नुकसान नहीं होगा।

बाईं करवट सोना : प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाएं बाईं ओर करवट लेकर सो सकती हैं। इससे मां और शिशु दोनों को कोई नुकसान नहीं होगा और आरामदायक अच्छी नींद भी मिलेगी। बाईं ओर करवट लेकर सोने से शरीर से अपशिष्ट पदार्थों और द्रवों को निकलने में काफी मदद मिलती है, जो आपके एडि़यों, पांव और हाथों में सूजन की समस्या को कम करता है।

दाईं करवट सोना : महिलाएं दाईं ओर करवट लेकर भी सो सकती हैं। हालांकि यह ज्यादा सुरक्षित नहीं लेकिन पीठ या उल्टा सोने के बजाए दाईं ओर करवट लेकर सोना सही रहता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हाइपोथायरॉइड से बढ़ रहा मोटापा तो आज ही अपनाएं ये टिप्स, तेजी घटेगा वजन!
2 पेट की लिए लाभदायक है तुलासन, जानिए विधि और फायदे
3 डायबिटीज, अस्थमा और थायरॉयड रोगियों के लिए लाभदायक है धनुरासन, जानिए विधि और फायदे
ये पढ़ा क्या?
X