ताज़ा खबर
 

इस उम्र के बाद ही करना चाहिए एंटी एजिंग क्रीम का इस्तेमाल, जानिए क्यों

एंटी एजिंग क्रीम का काम झुर्री और किनारों की रेखाओं को ही रिपेयर करना नहीं है। बल्कि आपकी स्किन की मरम्मत में भी मदद करना है।

एंटी एजिंग क्रीम का काम झुर्री और किनारों की रेखाओं को रिपेयर करने के साथ स्किन की मरम्मत में भी मदद करती है। प्रतीकात्मक तस्वीर।

जवां दिखने के लिए पानी खूब पनी चाहिए, क्योंकि इससे त्वचा में नमी बरकरार रहती है और शरीर में से हानिकारक विषाक्त पदार्थ भी निकल जाते हैं। इसके अलावा एंटी एजिंग क्रीम आपकी स्किन को ग्लो और जवां बनाने में मदद करती है। बाजार में ऐसी बहुत सी एंटी एजिंग क्रीम है जिनका इस्तेमाल किया जा सकता है। लेकिन एंटी एजिंग क्रीम को को लेकर अकसर यह सवाल किया जाता है कि किस उम्र की महिलाओं को इनका इस्तेमाल करना चाहिए। चलिए आज हम आपको बताते हैं कि किस उम्र में एंटी एंजिग क्रीम का इस्तेमाल करना सही रहता है और  क्यों?

एंटी एजिंग की समस्या क्यों: धूम्रपान करने से, त्वचा में नमी की कमी, तनाव आदि कारणों से झुर्रियां पड़ती हैं और आप उम्र से ज्यादा दिखाई देने लगती हैं। आमतौर पर झुर्रियों की समस्या उम्र बढ़ने के साथ सताने लगती है। आपकी पूरी दिनचर्या, जीवनशैली का आपके शरीर और त्वचा पर काफी असर पड़ता है।

क्या करें: जवां और ग्लोइंग स्किन पाने के लिए अपनी दिनचर्या, स्वास्थ्य पर भी ध्यान देना होगा। मुस्कुराना या फ्राउनिंग चेहरे के लिए एक प्रकार का व्यायाम हो सकते हैं, इनसे झुर्रियां नहीं पड़तीं। इसलिए खुश रहें, संतुलित और स्वस्थ डाइट लें। इसके साथ-साथ एंटी एंजिक क्रीम का इस्तेमाल किया जा सकता है।

एंटी एजिंग क्रीम इस्तेमाल करने की सही उम्र क्या: वैसे तो युवावस्था यानी  18 से 20 की उम्र में ही एंटी-एजिंग क्रीम का इस्तेमाल करने की सलाह भी दी जाती है, क्योंकि इस उम्र में आंखों के आस-पास बढ़ती उम्र के निशां, जैसे-डार्क सर्कल्स, महीन रेखाएं, सूजन आदि दिखने शुरू हो जाते हैं। लेकिन सामान्य रूप से 25 की उम्र से एंटी एजिंग का इस्तेमाल कर देना चाहिए। हालांकि यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपकी त्वचा कब और कितनी क्षतिग्रस्त हुई है।

क्या करती है एंटी एजिंग क्रीम: आपको जानकर हैरानी होगी कि एंटी एजिंग क्रीम का काम झुर्री और किनारों की रेखाओं को ही रिपेयर करना नहीं है। बल्कि आपकी स्किन की मरम्मत में भी मदद करती है, जिससे आप दोबारा जवां नजर आने लगती हैं। यह सूरज की किरणों, प्रदूषण और वातावरण आदि से स्किन को होने वाले नुकसान को रोकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App