X

अच्छी नींद के लिए सहायक हो सकता है नंगे पैर टहलना, तनाव भी करता है कम

सुबह-सुबह ओस में भीगी घास पर टहलना फायदेमंद माना जाता है जो पैरों के नीचे की कोमल कोशिकाओं से जुड़ी तंत्रिकाओं द्वारा मस्तिष्क तक राहत पहुंचाता है। जिससे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है।

हमारे पैर रिफ्लेक्सोलॉजी का मुख्य केंद्र हैं जो शरीर के विभिन्न हिस्सों से जुड़े हुए हैं। रिफ्लेक्सोलॉजी के नियमों के मुताबिक पैर में मौजूद प्रेशर पॉइंट्स को आराम पहुंचने से शरीर के बाकी हिस्सों को भी फायदा होता है। आंख, चेहरे की नसें, प्लीहा, पेट, दिमाग, किडनी जैसे विभिन्न अंगों के लिए पॉइंट हमारे पैरों में मौजूद होते हैं। हरी घास पर नंगे पैर टहलने से इन पॉइंट्स पर दबाव पड़ता है और हमारा शरीर की कार्यक्षमता बढ़ती है। डॉक्टरों के अनुसार जब हम नंगे पैर टहलते हैं तो पैरों की नसों पर हल्का दबाव बनता है और हमारे पूरे शरीर को आराम मिलता है। आइए जानते हैं नंगे पैर टहलने के बाकी फायदे।

अच्छी एक्सरसाइज:  कई लोग मानते होंगे की जिम में खूब पसीना बहाने या तेज दौड़ना ही एक्सरसाइज है लेकिन हरी घास पर चलना भी पैरों की एक फायदेमंद एक्सरसाइज है। इससे न सिर्फ मांसपेशियों और टखने को आराम मिलता है। बल्कि यह घुटने के दर्द, पीठ के दर्द से भी आराम दिलाता है। साथ ही यह उन लोगों के लिए भी फायदेमंद हैं जो कि फ्लेट फीट वाले होते हैं।

तनाव से छुटकारा: नंगे पैर टहलने से सेंसेज फिर से जिंदा होते हैं और आपके दिमाग को शांति मिलती है। साथ ही सुबह की हल्की धूप, फ्रेश हवा और हरियाली आपको दिमाग को सुकून मिलता है और आपका तनाव दूर होता है। वैसे सुबह- सुबह के वातावरण की वॉक आपकी हेल्थ को कई तरह से फायदा पहुंचाती है। साथ ही यह उन लोगों के लिए भी असरदार है जो कि डिप्रेशन से परेशान हैं।

डायबिटीज में राहत: डायबिटीज की समसस्या में अगर गहरी सांस लेते हुए टहलते हैं तो शरीर में ऑक्सीजन की पूर्ति होने से समस्या से मुक्ति पाई जा सकती है। सुबह-सुबह ओस में भीगी घास पर चलना बहुत बेहतर माना जाता है जो पांवों के नीचे की कोमल कोशिकाओं से जुड़ी तंत्रिकाओं द्वारा मस्तिष्क तक राहत पहुंचाता है। जिससे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और ब्लड शुगल लेवल भी कंट्रोल करने में भी फायदा होता है।

अच्छी नींद: हर रोज 25 से 30 मिनट नंगे पैर टहलने से ज्यादा अच्छी नींद आती है। सुबह घास पर नंगे पैर टहलने से सिरदर्द और माइग्रेन जैसी समस्याओं में आराम मिलता है, तनाव कम होता है। इन्हीं वजहों से रात के समय नींद भी अच्छी आती है।

Outbrain
Show comments