ताज़ा खबर
 

पेट की समस्याओं से हैं परेशान तो ऐसे कीजिए मयूरासन, जानिए ये फायदे

मयूरासन मानसिक तनाव को दूर करने और मन शांत रखने के लिए किया जा सकता है। इस योगासन के नियमित अभ्यास से पेट की कई समस्याओं में लाभ होता है। इससे लीवर, अग्नाशय और स्प्लीन में नई जान आ जाती है।

मयूरासन।(फोटो सोर्स – यूट्यूब)

योग के नियमित अभ्यास से शरीर लचीला और मजबूत बनाता है और मानसिक तनाव से छुटकारा मिलता है। रोजाना योग अभ्यास से हम स्वस्थ और फ्रैश महसूस करते हैं। योग के जरिए न सिर्फ बीमारियों का से निजात पाया जा सकता है बल्कि शरीर में नई ऊर्जा का संचार होता है। आइए आज हम आपको मयूरासन के बारे में बताते हैं। इस आसन के अभ्यास के दौरान शरीर मोर की स्थिति में होता है इसलिए इसे मयूरासन कहा गया है। यह शरीर से टॉक्सिन्स को बाहर निकालने के लिए सबसे अच्छा योगासन है। यह योग न सिर्फ पेट की समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए किया जा सकता है बल्कि स्किन प्रॉब्लम्स और डायबिटीज के रोगियों को मयूरासन करने से फायदा होता है। आइए जानते हैं कैसे करें मयूरासन और इसके फायदे।

मयूरासन के फायदे –

– इस योगासन के नियमित अभ्यास से पेट की कई समस्याओं में लाभ होता है। इससे लीवर, पेट, अग्नाशय और स्प्लीन में नई जान आ जाती है।
– यह आसन आपकी बाजूओं से एक्स्ट्रा फैट कम करता है जिससे मसल्स टाइट होती हैं और कॉलर बोन निकालने में आपकी मदद करता है।
– इस आसन में आगे की तरफ झुका जाता है जिससे कि ब्लड प्रेशर ठीक रहता है।
– यह स्किन प्रॉबल्म के लिए काफी कारगर योगासन है। इसके नियमित अभ्यास से आप ग्लोइंग स्किन पा सकते हैं।
– मयूरासन मानसिक तनाव को दूर करने और मन शांत रखने के लिए किया जा सकता है।
– इस योगासन के अभ्यास से कब्ज, अपच, गैस आदि से निजात पाने में मद मिलती है। पाचन क्रिया ठीक रहती है।
– डायबिटीज के रोगियों के लिए यह आसन लाभकारी साबित होता है। इस आसन को करने से क्वोथ ग्रंथि पर दबाव पड़ता है जिससे डायबिटीज रोगियों को लाभ मिलता है।
– मयूरासन के जरिए बाजुओं और कंधो को मजबूती मिलती है।
– इससे शरीर में ब्लड सर्कुलेश ठीक रहता है, जिससे आंखों को भी लाभ होता है।

ऐसे करें मयूरासन : इस आसन को करने के लिए सबसे पहले जमीन चटाई बिछाकर घुटनों टीकाकर बैठ जाएं और हथेलियों को जमीन पर इस प्रकार रखें उंगलियां पीछे की दिशा में रहे। दोनों कोहनियों को मोड़कर पेट की नाभि के पास लगाएं। अब आगे झुककर, दोनों पैरों को पीछे की ओर सीधा रखें। सांस बाहर छोड़ते हुए दोनों पेरों को जमीन से ऊपर उठाने की कोशिश करें। इस दौरान सिर नीचे की ओर झुकेगा और शरीर का पूरा भार दोनों हथेलियों पर आ जाएगा। अब आप मयूरासन की स्थिति में हैं। जितना हो सके इस पोजिशन में रुकने की कोशिश करें। शुरुवात में इस आसान को एक बार ही करें। बाद में इसका अभ्यास बढ़ा सकते हैं।

नोट : ब्लड प्रेशर, टीबी, ह्रदय रोग, अल्सर और हर्निया रोगियों को मयूरासन का अभ्यास नहीं करना चाहिए। ये रोगी मयूरासन का अभ्यास करने से पहले डॉक्टर की सलाह लें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अच्छी सेहत के लिए नाश्ते में खाएं सब्जियों का दलिया, ऐसे करें तैयार
2 गर्मियों में होता है बालों को सबसे ज्यादा नुकसान, जानिए कैसे करें देखभाल
3 बढ़ते वजन और डायबिटीज से परेशान लोग ऐसे करें वक्रासन, जानिए ये फायदे
ये पढ़ा क्या?
X