ताज़ा खबर
 

प्रेग्नेंसी में इस कारण चेहरे पर आ जाता है निखार

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में हार्मोन्स में कई तरह के बदलाव आते हैं। महिला हार्मोन जैसे एस्ट्रोजन, प्रोजेस्ट्रोन, मेलानोसाईट उत्तेजक हार्मोन और बाकी हार्मोन के स्‍तर में वृद्धि होने लगती है।

Author August 29, 2018 12:39 AM
गर्भावस्था के दौरान हल्का गर्म पानी पीना चाहिए।

प्रेग्नेंसी के दौरान अक्सर महिलाओं के चेहरे की स्कीन ग्लो करने लगती है। यह प्रेग्नेंसी के लक्षण के रूप में भी देखी जाती है। यह निखार न सिर्फ चेहरे पर होता है बल्कि स्तन, पेट और बाकी जगहों पर भी देखा जाता है। प्रेग्नेंट महिला के की स्कीन में फुलावट या भरावट आती है। इस वजह से पतली रेखाएं और झुर्रीयां सपाट हो जाती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं प्रेग्नेंसी के दौरान ही ऐसा क्यों होता है? आइए जानते हैं आखिर क्या है इसकी वजह।

दरअसल, प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में हार्मोन्स में कई तरह के बदलाव आते हैं। महिला हार्मोन जैसे एस्ट्रोजन, प्रोजेस्ट्रोन, मेलानोसाईट उत्तेजक हार्मोन और बाकी हार्मोन के स्‍तर में वृद्धि होने लगती है। इस वजह से आपके शरीर में काफी ऑइल बनता है और स्किन में निखार आता है। वहीं इसका दूसरा कारण यह भी है कि इस दौरान शरीर में खून का संचार तेजी से होता है। प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में खून का संचार 50 प्रतिशत तक बढ़ जाता है। जिसकी वजह से प्रेग्नेंट महिला की स्कीन में ग्लो करने लगती है।

प्रेग्नेंसी के दौरान निखार के साथ-साथ कई तरह की स्कीन प्रॉब्लम्स का होना भी आम बात है। इस दौरान पेट में बच्‍चे के दबाव के कारण रक्‍त पैरों में इकट्ठा हो जाता है, जिसकी वजह से त्‍वचा में कई प्रकार के बदलाव आते हैं और त्वचा संबंधी कई समस्याओं का सामना करना पडता है। स्ट्रेच माक्र्स, खुजली, मुंहासे, पिग्मेंटेशन और प्रसव के बाद त्वचा का ढीला पड़ जाना जैसी कई समस्याएं हो सकती हैं। हालांकि ये बदलाव अस्थायी होते हैं। ऐसे में इन सबसे ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि वक्त के साथ ये समस्यायें काफी हद तक ठीक हो जाती हैं।

प्रेग्नेंसी के दौरान इन बातों का रखें ख्याल
– प्रेग्नेंट महिलाएं सोच-समझकर स्किन केयर प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें।
– स्ट्रेच माक्र्स के लिए ट्रेटीनाइन युक्त जेल का उपयोग न करें।
– प्रेग्नेंसी के दौरान हेल्थी स्कीन के लिए पर्याप्त नींद लें।
– डाइट में गहरे रंग की सब्जियां और फल शामिल करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X