X

शिल्पा शेट्टी से अनुष्का शर्मा तक करवा चुकी हैं कॉस्मेटिक सर्जरी, इसके हो सकते हैं ऐसे साइड इफेक्ट्स

कॉस्मेटिक सर्जरी का इस्तेमाल खूबसूरत दिखने के लिए किया जाता है, लेकिन कई बार यह खतरनाक भी हो सकती है। सर्जरी से खून का थक्का, नर्व डैमेज, चर्म रोग, दाग-धब्बे ऑर्गन डैमेज जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इसके अलावा...

बॉलीवुड में ऐसी कई एक्ट्रेसेस हैं जिन्होंने सुंदर दिखने के लिए कॉस्टमेटिक सर्जरी कराई है। इनमें शिल्पा शेट्टी से लेकर अनुष्का शर्मा और कंगना रनौत भी शामिल हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शिल्पा ने नाक की, प्रियंका चोपड़ा ने नाक और लिप, कंगना रनौत ने लिप जॉब के बाद ब्रेस्ट सर्जरी और अनुष्का शर्मा लिप सर्जरी की वजह से सुर्खियां बटोर चुकी हैं। पहले माना जाता था कि कॉस्मेटिक सर्जरी सिर्फ एक्ट्रेसेस या अमीर घरों की महिलाएं ही करा सकती हैं, लेकिन अब ऐसा नहीं है। क्योंकि पहले के मुकाबले अब कॉस्मेटिक सर्जरी कराना आसान हो गया है। मिडल क्लास की महिलाएं भी सुंदर दिखने के लिए कॉस्मेटिक सर्जरी करा सकती हैं। लेकिन इसके फायदे होने के साथ-साथ कई साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। आइए जानते हैं कॉस्मेटिक सर्जरी से कैसे साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।

कॉस्मेटिक सर्जरी का इस्तेमाल खूबसूरत दिखने के लिए किया जाता है, लेकिन कई बार यह खतरनाक भी हो सकती है। सर्जरी से खून का थक्का, नर्व डैमेज, चर्म रोग, दाग-धब्बे ऑर्गन डैमेज जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इसके अलावा दिमाग पर बुरा असर भी पड़ सकता है।

हेयर रेस्टोरेशन: हेयर रेस्टोरेशन यानी गंजापन दूर करने के लिए बालों सहित स्किन और सिलिकॉन बलून को बालों के नीचे लगाकर त्वचा डबल की जाती है। इस सर्जरी के बाद संक्रमण, निशान या ब्लीडिंग होने का खतरा होता है।

आईब्रो लिफ्ट: इस सर्जरी में एजिंग की वजह से झुकी हुई आईब्रोज और माथे की लटकी त्वचा को ठीक किया जाता है। इस कॉस्मेटिक सर्जरी के बाद संक्रमण, निशान दिखने और संवेदनशीलता खत्म होने जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

नोज जॉब: यह सर्जरी में नाक को सही आकार देने और दबी हुई नाक को शार्प करने के लिए की जाती है। इस सर्जरी के बाद नाक की त्वचा पर लाल धब्बे, सूजन और ब्लीडिंग हो सकती है।

फेस लिफ्ट: इस सर्जरी से चेहरे की झुर्रियां और लटकी हुई स्किन को हटाकर चेहरे और गर्दन की मसल्स को मजबूती दी जाती है। इसके अलावा एक्स्ट्रा स्किन को निकाला जाता है। इससे संक्रमण, त्वचा का रंग बदलना, चेहरे की धमनियों में क्षति, संवेदनशीलता खत्म होने के साथ- साथ स्किन पर लाल रंग के धब्बे पड़ने का खतरा होता है।

Outbrain
Show comments