Karwa Chauth 2021: करवा चौथ के मौके पर पाना चाहती हैं मेहंदी का गाढ़ा रंग, अपनाएं ये टिप्स

Dark Mehndi Tips: मेहंदी लगाने से पहले हाथों को अच्छी तरह से साफ कर लें। फिर इसके बाद हाथों पर नीलगिरी का तेल लगाएं।

Mehndi Designs, Tips For Dark Mehndi,
मेहंदी को गाढ़ा करने के उपाय

Tips To Darken Mehndi On Karwa Chauth: हिंदू धर्म में कोई भी तीज त्योहार मेहंदी के बिना अधूरा माना जाता है। खासतौर पर करवा चौथ का त्योहार। महिलाओं के सोलह श्रृंगारों में से एक मेहंदी ना केवल हाथों की खूबसूरती को बढ़ाती है बल्कि इसे सुहाग का प्रतीक भी माना जाता है। करवा चौथ से एक या फिर दो दिन पहले महिलाएं अपने हाथों में मेहंदी लगाती हैं। लेकिन अक्सर ऐसा होता है कि हाथों पर मेहंदी का रंग गहरा नहीं आता, इसको लेकर महिलाएं कई बार परेशान हो जाती हैं। ऐसे में कुछ उपायों को अपनाकर मेहंदी के रंग को गाढ़ा किया जा सकता है। जानिये क्या हैं यह टिप्स: ‘

डार्क मेहंदी के लिए इन टिप्स को करें फॉलो:

-मेहंदी लगाने से पहले हाथों को अच्छी तरह से साफ कर लें। फिर इसके बाद हाथों पर नीलगिरी का तेल लगाएं। कम से कम पांच घंटे तक मेहंदी को हाथों में लगा रहने दें।

-सूखने के बाद में अपने हाथों पर नींबू और शक्कर का मिश्रण लगाएं। इस मिश्रण को मेहंदी पर चुपकाकर ही रखें।

-जब भी आप हाथों से मेहंदी छुड़ाएं, उस पर पानी ना लगने दें। क्योंकि इससे मेहंदी का रंग गहरा नहीं होता।

-बाद में हाथ पर बाम, आयोडेक्स, विक्स और सरसों का तेल लगा लें। बता दें कि इन उपायों से हथेली को गर्माहट मिलती है, जिससे मेहंदी का रंग गाढ़ा हो जाता है। आप चाहें तो अपने हाथों पर लौंग का धुंआ लगा सकते हैं। इसके अलावा आप मेहंदी पर आचार का तेल भी लगा सकते हैं।

-चूना: मेहंदी का रंग डार्क करने के लिए आप चूने का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसके लिए मेहंदी लगे हाथों पर चूना रगड़ें।

-रात के समय मेहंदी लगाना सबसे अच्छा तरीका माना जाता है, क्योंकि अगर आप रात के समय मेहंदी लगवाती हैं तो इससे यह ज्यादा समय तक हाथों पर लगी रहती है। अगर आप चाहती हैं कि आपकी मेहंदी डार्क रचे तो उसे सुखाने की जल्दी ना करें। आप उसे नेचुरल तरीके से ही सूखने दें।

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
एक मंदिर ऐसा भी: जहां रोज होगी रावण की पूजा
अपडेट