कमलनाथ ने मानी थी जरनैल स‍िंह भ‍िंडरावाले को पैसे देने की बात- कि‍ताब में है दावा, संजय गांधी का था द‍िमाग

Kamal Nath Net Worth: दो साल पहले द‍िए गए चुनावी हलफनामे के मुताब‍िक कमलनाथ और उनकी पत्नी अलकानाथ की संपत्ति 124 करोड़ से ज्यादा है

kamal nath, kamal nath age, kamal nath party, kamal nath birthday, congress
मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्य

Kamal Nath Birthday: मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के कद्दावर नेता कमलनाथ का 18 नवंबर को जन्मदिन है। कानपुर में जन्मे कमलनाथ को गांधी परिवार का बेहद करीबी माना जाता है। कभी संजय गांधी के दाहिने हाथ रहे कमलनाथ को इंदिरा गांधी अपना तीसरा बेटा भी मानती थीं। इसकी वजह भी दिलचस्प थी।

दरअसल, इमरजेंसी के बाद जब संजय गांधी गिरफ्तार किए गए और तिहाड़ जेल भेजे गए तब इंदिरा गांधी को जेल में उनकी सुरक्षा की चिंता सताने लगी। इसके बाद कमलनाथ ने जज से वैर मोल लेकर खुद को जेल भि‍जवाया, ताक‍ि संजय के साथ रह सकें। जज पर कागज गोला फेंकने के बाद कमलनाथ जेल भेज दिए गए। फिर जेल में संजय गांधी के साथ ही रहे। दून स्कूल के दिनों से संजय गांधी के साथ साए की तरह साथ रहने वाले कमलनाथ यहीं से इंदिरा गांधी की गुड बुक में आए।

कमलनाथ का नाम सिख विरोधी दंगों से लेकर हवाला कांड और भिंडरावाले तक को खड़ा करने में लिया जाता है। भिंडरावाले के साथ कमलनाथ के कनेक्शन का जिक्र मशहूर पत्रकार कुलदीप नैयर ने अपनी किताब ‘बियोंड द लाइंस एन ऑटोबायोग्राफी’ में किया है। नैयर ने अपनी किताब में लिखा है कि पंजाब में अकाली दल के दबदबे और बढ़ते प्रभाव का काट ढूंढने के लिए कांग्रेस को किसी ऐसे शख्स की तलाश थी जो उनको उन्हीं की भाषा में जवाब दे सके।

इस काम की जिम्मेदारी कमलनाथ को सौंपी गई। उन्होंने दो लोगों का इंटरव्यू लिया, जिसमें भिंडरावाले भी शामिल। बाद में इस काम के लिए भिंडरावाले को चुना गया क्योंकि वह बातचीत से दबंग था और इस काम के लिए उपयुक्त जान पड़ा। हालांकि उस वक्त कमलनाथ को यह जरा भी अहसास नहीं था कि आगे चलकर यह आतंकी के तौर पर उभरेगा और इंदिरा गांधी सरकार के लिए सरदर्द बन जाएगा।

नैयर की क‍िताब के मुताब‍िक संजय गांधी अकाली दल के तत्कालीन मुखिया संत हरचरण सिंह लोंगोवाल की काट चाहते थे। उन्‍हें लगा क‍ि लोंगोवाल के मुकाबले एक और संत को खड़ा कर यह काम क‍िया जा सकता है। उनकी इसी चाहत के तहत कमलनाथ ने दमदमी टकसाल (सिखों की एक प्रभावशाली संस्था) के संत भिंडरावाले को चुना। नैयर के मुताबिक कमलनाथ ने जरनैल सिंह भिंडरावाले को पैसे देने की बात मानी भी थी।

बिजनेस टायकून भी कहे जाते हैं: कानपुर में जन्मस्थली के बाद कोलकाता को कर्मस्थली बनाने वाले कमलनाथ को बिजनेस टायकून भी कहा जाता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उनका व उनके पर‍ि‍वार का करीब 23 कंपनियों से जुड़़ाव है। उनका कारोबार रियल इस्टेट से लेकर हॉस्पिटैलिटी और एजुकेशन सेक्टर तक फैला है। सियासी गलियारों में कमलनाथ के लिए यह भी कहा जाता है कि उनके लिए कोई भी काम नामुमकिन नहीं है। उनकी डिक्शनरी में न शब्द है ही नहीं।

दो साल पहले द‍िए गए चुनावी हलफनामे के मुताब‍िक कमलनाथ और उनकी पत्नी अलकानाथ की संपत्ति 124 करोड़ से ज्यादा है। वहीं, बेटे नकुलनाथ के पास 656 करोड़ रु. से अधिक की संपत्ति है। नकुल की पत्नी प्रिया नाथ के पास 2 करोड़ 30 लाख की संपत्ति है। अलकानाथ के पास गोल्ड डायमंड और स्टोन की 2.20 करोड़ की ज्वेलरी है।

पढें जीवन-शैली समाचार (Lifestyle News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट