ताज़ा खबर
 

‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ के अय्यर थे शो के लेखकों में से एक, जेठालाल ने रोल के लिए दिया था सुझाव, जानिये कैसी है लाइफ

Taarak Mehta Ka Ooltah Chashma: तनुज महाशब्दे पहले शो के लेखकों में से एक थे, लेकिन जेठालाल के कारण उन्हें यह रोल मिला। आइए जानते हैं अय्यर यानि तनुज महाशब्दे के लाइफ से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें-

तनुज महाशब्दे के लाइफ से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें-

‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ पिछले कई सालों से लोगों का मनोरंजन करता आ रहा है। इस शो का हर किरदार शानदार है। जेठालाल, दयाबेन से लेकर बबीता जी तक, लोग हर किरदार को बेहद पसंद करते हैं। शो में अय्यर की भूमिका निभा रहे तनुज महाशब्दे भी अपने स्‍टाइल से लोगों को दिल जीतते आ रहे हैं। अय्यर और जेठालाल के बीच के नोंक-झोंक को सभी बेहद पसंद करते हैं। बता दें कि तनुज पहले शो के लेखकों में से एक थे, लेकिन जेठालाल के कारण उन्हें यह रोल मिला। आइए जानते हैं अय्यर यानि तनुज महाशब्दे के लाइफ से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें-

तनुज कैसे आए इस शो में: रिपोर्ट्स के अनुसार, एक बार तुनज और बबीता शो के सेट पर एक-दूसरे से बात कर रहे हैं। तब ही जेठालाल यानि दिलीप जोशी ने उन्हें बात करते देखा और शो के मेकर्स को कहा कि तनुज को बबीताजी के पति के रोल के लिए कास्ट किया जाए। राइटर होने के बावजूद अय्यर ने अपने रोल को इतनी बखूबी निभाया है कि उनके इस किरदार को कोई और रिप्लेस भी नहीं कर पाया।

हर एपिसोड का कितना चार्ज करते हैं: मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, तनुज को तारक मेहता शो के हर एपिसोड के लिए करीबन 23000 रुपए मिलते हैं। इस शो में अय्यर की पत्नी बबिता अय्यर शो में मॉर्डन अंदाज का तड़का डालती हैं, जिसके पीछे जेठालाल दिवाने हैं। जेठालाल और बबिता के बीच की मासूम कैमेस्ट्रिी लोगों का दिल जीत लेती है।

तारक मेहता शो के निर्देशक शो का हिस्सा बनने को कहा: तनुज महाशबदे सीआईडी ​​और आहट जैसी कई सीरियल्स में छोटी-छोटी भूमिकाओं में दिखाई दिए हैं। लेकिन ‘ये दुनी है रंगेन’ में उनकी भूमिका के लिए उन्हें पहचान मिली। कुछ पारिवारिक मुद्दों के कारण, वह अपने घर वापस चले गए और इंदौर में एक शिक्षक के रूप में काम करना शुरू कर दिया। बाद में ‘ये दुनी है रंगेन’ के निर्देशक ने तनुज महाशब्दे को वापस आने और अपने नए शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में शामिल होने के लिए कहा।

तुनज के मुताबिक थिएटर से आता है कॉन्फिडेंस: बता दें कि अधिकांश कलाकार थिएटर बैकग्राउंड से हैं। तनुज भी भारती विद्या भवन कला केंद्र में नाटक किया करते थे। उन्‍होंने इंदौर में थियेटर में भी काम किया है। एक इंटरव्यू के दौरान तनुज ने बताया था कि उनके अनुसार, थिएटर करने से एक अलग कॉन्फिडेंस आता है और इंसान किसी भी रोल को बेहतरीन तरीके से निभा पाता है। थिएटर में काम करने के बाद तनुज मुंबई चले गए थे।

Next Stories
1 सफेद बालों की समस्या से हैं परेशान, तो लहसुन में मिलाकर लगाएं सिर्फ ये तीन चीज़
2 Skin Care: स्किन में निखार लाने के लिए रात को सोने से पहले चेहरे पर लगाएं एलोवेरा जेल, जानिये इस्तेमाल का तरीका
3 इस प्रधानमंत्री को तीसरी बार टालनी पड़ी शादी, कोरोना नहीं, सम्‍मेलन बना वजह
ये पढ़ा क्या?
X