scorecardresearch

Surya Namaskar: क्या तनाव मुक्त करने में बहुत मददगार है सूर्य नमस्कार? जानिए एक्सपर्ट की राय

Surya Namaskar:सूर्य नमस्कार से कई फायदे होते है।यह वजन कम करने में बहुत लाभकारी है।

Surya Namaskar: क्या तनाव मुक्त करने में बहुत मददगार है सूर्य नमस्कार? जानिए एक्सपर्ट की राय
Surya Namaskar: सूर्य नमस्कार के फायदे। (फोटो:freepik)

Surya Namaskar: बाबा रामदेव के अनुसार नियमित रूप से सूर्य नमस्कार करने से हमारा शरीर स्वास्थ्य रहता है। साथ ही हमारे अंदर रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। यह तनाव मुक्त करने में भी यह बहुत मददगार है। सूर्य नमस्कार वजन कम करने, पेट की मांशपेशियों को स्वास्थ्य रखने, पांचन तंत्र आदि के लिए भी बहुत फायदेमंद हैं। आइए एक्सपर्ट से जानते हैं कि सूर्य नमस्कार करने के क्या फायदे हैं और इसे करने से कितनी कैलोरी बर्न होती है।

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के अनुसार योग प्रशिक्षक इरा त्रिवेदी ने कहा कि सूर्य नमस्कार कई लोगों की फिटनेस दिनचर्या का एक अनिवार्य हिस्सा बन गया है। उन्होंने बताया कि यह एक वार्म-अप व्यायाम है न कि कार्डियो वर्कआउट। यह शरीर के मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने के लिए यह अच्छी एक्सरसाइज है। इसलिए इसे तेज गति के साथ कर सकते हैं या फिर योग मुद्रा में करना चाहिए।

सूर्य नमस्कार के फायदे

त्रिवेदी ने कहा कि सूर्य नमस्कार जिसे संस्कृत में ‘विनयसा’ कहा जाता है। सूर्य नमस्कार करने से शरीर लचीलापन बढ़ने के साथ उसकी सहनशक्ति भी बढ़ती है। योग के दौरान गहरी सांस लेने से श्वसन प्रणाली को साफ होती है। इससे मांसपेशियों को मजबूती भी प्राप्ति होती है। साथ ही यह व्यक्ति को शांत और तनावमुक्त करने में भी मदद करता है। डायबिटीज को भी कंट्रोल करने में यह सहायक है।

कितनी कैलोरी बर्न होती

त्रिवेदी ने कहा कि कितनी कैलोरी बर्न होती है इसका कोई निर्धारित पैमाना नहीं है जिसे कोई परिभाषित किया जा सके, क्योंकि यह सूर्य नमस्कार करने वाले के गति पर निर्भर करता है। उन्होंने कहा कि यदि आप इसे धीरे-धीरे नियंत्रण के साथ करते हैं, जहां आपकी हृदय गति इतनी नहीं बढ़ रही है, तो आप उतनी कैलोरी नहीं बर्न कर पाएंगे। लेकिन अगर आप इसे तेजी से करते हैं, तो कार्डियोवस्कुलर वर्कआउट होने के कारण अधिक कैलोरी बर्न कर सकते हैं। मेरी समझ में योग की दृष्टि से सूर्य नमस्कार को स्थिर गति के साथ करना अत्यंत महत्वपूर्ण है। इसे न तो बहुत तेज और न ही बहुत धीमा करना चाहिए।

अक्षर योग संस्थान के संस्थापक हिमालयन सिद्ध अक्षर ने सहमति जताते हुए कहा कि सूर्य नमस्कार जब धीरे-धीरे किया जाता है, तो 5-10 मिनट में लगभग 20 से 30 कैलोरी बर्न होती है। यह आपके सांस लेने की प्रक्रिया पर भी निर्भर करता है। इसके अतिरिक्त जब आप सूर्य नमस्कार का अभ्यास करते समय सांस लेने के सही तरीके और अलग-अलग आसनों को करते हैं, तो कैलोरी अधिक बर्न होती है।

अक्षर ने कहा कि आप कितनी कैलोरी बर्न करते हैं यह उम्र जैसे कई अन्य कारकों पर भी निर्भर करता है। उन्होंने कहा कि “20 से 40 वर्ष की आयु के लोगों में कैलोरी बर्न की दर अधिक होगी और सूर्य नमस्कार का अभ्यास करने के 5 से 10 मिनट के भीतर 40 से 50 कैलोरी तक भी पहुंच सकते हैं। वहीं त्रिवेदी ने कहा कि 10 मिनट सूर्य नमस्कार नियमित रूप से करने से भी सेहत को बहुत लाभ होता है।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 14-11-2022 at 10:28:29 pm
अपडेट