scorecardresearch

कई एजेंसियों को लगाएंगे तब पता चल सकेगी मेरी संपत्ति- अरबपति होने की खबरों पर राकेश टिकैत का तंज

अपनी प्रॉपर्टी को लेकर कही जा रही तमाम बातों और कयासबाजी के बीच खुद राकेश टिकैत ने इस मामले पर तस्वीर साफ़ की है। जब टिकैत से इस बारे में इस बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि हमारी प्रॉपर्टी 80 करोड़ की बताई गई… कम बताई गई।

rakesh tikait
भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत (PTI)

भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता और मौजूदा किसान आंदोलन का चेहरा बन गए राकेश टिकैत ने अपने अरबपति होने की खबरों पर कटाक्ष करते हुए प्रतिक्रिया दी है। लेकिन टिकैत ने यह नहीं बताया कि वाक़ई वह कितनी संपत्ति के मालिक हैं। मीडिया खबरों में बताया जा रहा है कि चार राज्यों के तेरह शहरों में उनकी करोड़ों की जायदाद है।

Zee News ने एक रिपोर्ट में दावा किया है कि राकेश टिकैत 80 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति के मालिक हैं। उनकी संपत्ति 4 राज्यों- उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली और महाराष्ट्र के 13 शहरों में फैली है। टिकैत पेट्रोल पंप, होटल और शोरूम के भी मालिक हैं। चैनल का दावा है कि कभी 5 बीघा जमीन के मालिक रहे राकेश टिकैत के पास अब उनके गांव सिसौली में 110 बीघा जमीन है।

इसके अलावा तमाम जगहों पर उनकी और और उनके रिश्तेदारों के नाम से भी प्रॉपर्टी है। हालांकि चैनल ने ये आंकड़े पेश करते हुए इसका स्रोत नहीं बताया और कहा कि सूत्रों के जरिए उसे जानकारी मिली है। आपको बता दें कि WhatsApp और सोशल मीडिया पर भी टिकैत की संपत्ति को लेकर कुछ ऐसी ही जानकारियाँ शेयर की जा रही हैं। इस बारे में प्रभु चावला ने आज तक चैनल पर अपने साप्ताहिक शो सीधी बात में भी टिकैत से सवाल पूछा था। लेकिन, टिकैत ने कोई सीधा जवाब नहीं दिया था।

क्या कहते हैं टिकैत सुनें :  

इसी बीच अब अपनी प्रॉपर्टी को लेकर कही जा रही तमाम बातों और कयासबाजी के बीच खुद राकेश टिकैत ने इस मामले पर तस्वीर साफ़ की है। जब टिकैत से इस बारे में इस बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि हमारी प्रॉपर्टी 80 करोड़ की बताई गई… कम बताई गई। बहुत बैंकों के अधिकारी लगाने पड़ेंगे, सीए लगाने पड़ेंगे, पटवारी लगेंगे, एसडीएम लगेंगे और सरकार लगेगी तब जाकर मेरी संपत्ति का पता चलेगा।

टिकैत ने आगे तंज कसते हुए कहा, बस इतनी ही प्रॉपर्टी है मेरे पास? पेट्रोल पंप तो 8 ही बताए… पेट्रोल पंप तो बहुत हैं…।’ जब टिकैत से यह पूछा गया कि क्या सरकार उनकी संपत्ति की बात कर उन पर दबाव बनाना चाहती है तो उन्होंने कहा कि कई एजेंसियां लगेंगी तब जाकर मेरी संपत्ति का पता चलेगा।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X