scorecardresearch

Piles Cure: बवासीर को जड़ से ख़त्म करने में कारगर है कपूर, जानिये इस्तेमाल का तरीका

औषधीय गुणों से भरपूर कपूर का सेवन करने से पाइल्स की समस्या से निजात मिलती है।

piles problem,piles symptoms, piles cure,piles home remedies,kapoor, Best Piles Remedy,
खाने वाले कपूर को एक केले में डाल कर निगल लिया जाए तो बवासीर के लक्षणों से राहत मिलती है। Photo-Freepik

पाइल्स या बवासीर एक ऐसी बीमारी है जिससे पूरी दुनिया में करोड़ों लोग परेशान हैं। हमारे देश में ही अकेले इस बीमारी से करोड़ों लोग ग्रासित हैं। इस बीमारी का सबसे बड़ा कारण कब्ज है। पुरी दुनियां में 15 फीसदी लोग कब्ज के शिकार है। कब्ज की वजह से ही पाइल्स, फिशर,फिस्टुला बनता है। कब्ज की वजह से बॉडी में अशुद्धियां बढ़ जाती है और पाचन बिगड़ने लगता है।

कब्ज गैस और पाचन संबंधी बीमारियों की सबसे बड़ी वजह है। पाइल्स मुख्य रूप से सूजी हुई रक्त वाहिकाएं हैं, जबकि फिशर एक प्रकार की कट या दरारें होती हैं और फिस्टुला गुदा के मध्य भाग में गुदा ग्रंथियां होती हैं, जिनमें संक्रमण हो जाता हैं। फिस्टुला में गुदा क्षेत्र से मवाद निकलता है।

पाइल्स की परेशानी एनस की नसों में सूजन आने की वजह से होती है। ये परेशानी एनस के अंदरूनी या फिर बाहर के हिस्से में हो सकती है। इस बीमारी के कई कारण हो सकते हैं जैसे कब्ज की शिकायत होना, खराब खान-पान, लम्बे समय तक शौच में बैठना, पाचन संबंधी दिक्कते इस बीमारी की सबसे बड़ी वजह है।

पाइल्स की इस परेशानी का आयुर्वेद में बेहतरीन उपचार है। बाबा रामदेव के मुताबकि बवासीर के मरीज इस बीमारी से छुटकारा पाने के लिए कपूर का सेवन करें। आइए जानते हैं कि कपूर कैसे पाइल्स से निजात दिलाता है और उसका सेवन कैसे करें।

कपूर के बवासीर में फायदे: औषधीय गुणों से भरपूर कपूर का सेवन करने से पाइल्स की समस्या से निजात मिलती है। कपूर का इस्तेमाल जलाने से लेकर खाने तक में किया जाता है। यह एक पेड़ की छाल से बनाया जाता है जिसका इस्तेमाल कई बीमारियों का उपचार करने में किया जाता है। खाने वाले कपूर को एक केले में डाल कर निगल लिया जाए तो बवासीर के लक्षणों से राहत मिलती है।

प्रिस्टिन केयर के डॉक्टर पंकज सरीन के मुताबिक कपूर का सेवन करने से गुदा की नसों में सूजन कम होती है। कपूर में मौजूद एंटी इंफ्लामेटरी गुण सूजन का तेजी से उपचार करते हैं। देसी कपूर में कैमिकल नहीं होता ये बवासीर का बेहतर उपचार करता है।

गुदा में होने वाली जलन दूर करता है: बवासीर के मरीजों को गुदा में जलन की बेहद शिकायत होती है। कपूर का सेवन करने से जलन में ठंडक मिलती है। कपूर का पेस्ट जलन को दूर करने में बेहद असरदार होता है।

घाव तेजी से भरता है: कपूर का सेवन करने से घाव तेजी से भरता है। ये क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को सामान्य कर देता है।

खुजली दूर करता है: बवासीर के मरीज खुजली से बेहद परेशान रहते हैं। कपूर का इस्तेमाल करने से खुजली की समस्या से निजात मिलती है।

बवासीर के मस्से कम होते हैं: कपूर का सेवन करने से बवासीर की वजह से गुदा में होने वाले मस्सों से निजात मिलती है।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X