scorecardresearch

Diabetes Control: शुगर को कंट्रोल करना चाहते हैं, तो इन 4 तरह की पत्तियों का करें सेवन

तुलसी के पत्ते लिपिड सामग्री को कम करते हैं और स्ट्रोक, हाई ब्लड प्रेशर और दिल की बीमारियों से बचाने में असरदार साबित होते हैं।

benefits-of tulsi
औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी का खाली पेट सेवन करने से टाइप 2 डायबिटी के मरीज़ों की शुगर कंट्रोल रहती है। photo-freepik

शुगर तेज़ी से फैलने वाली ऐसी बीमारी है, जिसके मरीज़ों की तादाद देश और दुनियां में कोविड-19 के संक्रमण के दौरान और ज्यादा बढ़ती जा रही है। भारत में यह बीमारी इतनी तेजी से फैल रही है कि इनके मरीज़ों की संख्या 5 करोड़ तक पहुंच गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक (WHO) 2030 तक भारत में डायबिटीज के मरीजों की तादाद आठ करोड़ से भी ज्यादा हो सकती है। दुनिया में डायबिटीज के मरीज़ों की तादाद आने वाले बीस सालों में 35 करोड़ तक पहुंचने का अनुमान है।

खराब लाइफस्टाइल और खान-पान की खराबी से पनपने वाली इस बीमारी पर कंट्रोल करना है तो लोगों को अपना लाइफस्टाइल और डाइट दोनों सुधारनी होंगी। जो मरीज डायबिटीज के शिकार हैं उन्हें दवाई के साथ सप्लीमेंट्री के तौर पर कुछ घरेलू नुस्खों का भी इस्तेमाल करना चाहिए। घरेलू नुस्खें शुगर को कंट्रोल करने में असरदार है। आप भी शुगर को कंट्रोल रखना चाहते हैं तो दवा के साथ ही कुछ पत्तियों का सेवन करें, जो ब्लड में शुगर को कंट्रोल करने में बेहद असरदार है।

डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए आयुर्वेदिक नुस्खे

तुलसी की पत्तियां शुगर रखेंगी कंट्रोल: औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी का खाली पेट सेवन करने से टाइप 2 डायबिटी के मरीज़ों की शुगर कंट्रोल रहती है। तुलसी के पत्ते लिपिड सामग्री को कम करते हैं और स्ट्रोक, हाई ब्लड प्रेशर और दिल की बीमारियों से बचाने में असरदार साबित होते हैं।

करी पत्ता का सेवन करें: करी पत्ता का इस्तेमाल खाना बनाने में किया जाता है लेकिन आप जानते हैं कि करी पत्ता शुगर को कंट्रोल करने में भी असरदार है। करी पत्ते का नियमित सेवन करने से इंसुलिन बनाने वाली कोशिकाओं को उत्तेजित करने में मदद मिलती है। ये कोशिकाएं ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल रखने में मदद करती हैं।

नीम के पत्ते डायबिटीज के मरीज़ों के लिए है असरदार : डायबिटीज के मरीज़ रोजाना नीम के पत्तों का सेवन करेंगे तो ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रह सकता है। नीम के पत्तों का एंटीहिस्टामाइन प्रभाव रक्त वाहिकाओं को पतला करता जिसकी वजह से यह पत्ते ब्लड शुगर को कम करने में मदद करते हैं। अगर आप नीम के पत्ते खा रहे हैं तो शुगर टेस्ट जरूर करें। शुगर कम है तो डायबिटीज की दवाई को कम कर दें वरना शुगर लेवल ज्यादा गिर सकता है, जो आपकी सेहत के लिए घातक साबित हो सकता है।

जैतून के पत्तों का करें सेवन: डायबिटीज रोगी अगर जैतून के पत्ते का सेवन करते हैं तो ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद मिलेगी। जैतून के पत्ते चबाने से ब्लड प्रेशर रोगियों को भी फायदा पहुंचते हैं। एंटीऑक्सिडेंट गुणों से भरपूर जैतून ब्लड शुगर लेवल को कम करने में बेहद असरदार है।

पढें जीवन-शैली (Lifestyle News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट